IPL मैच में दांव: रायपुर में लॉकडाउन में नहीं मिला होटल या रूम तो हाईटेक कार से खिलाने लगे सट्टा, 2 मामलों 11 करोड़ से अधिक की सट्टा-पट्टी जब्त-7 गिरफ्तार

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में आईपीएल मैच में सट्टा खिलाने वाले सटोरियों को दबोचने में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। रायपुर पुलिस ने दो अलग-अलग मामले में 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक सटोरिये हाईटेक कार में सवार होकर आईपीएल क्रिकेट मैच का सट्टा खिला रहे थे। पुलिस ने एक मामले में 3 आरोपियों के पास से 12 हजार नगदी, लैपटाप, मोबाइल और 10 करोड़ रुपए का सट्टा पट्टी जब्त किया है। तो वहीँ दूसरे मामले में 4 आरोपियों से नगदी 12 हजार, 01 नग लैपटाॅप, 10 नग मोबाईल फोन एवं 01 करोड़ रूपये से उपर की सट्टा पट्टी जब्त किया। यह पूरा मामला तेलीबांधा थाना इलाके का है। जानकारी के मुताबिक यह पैसा कल हुए मुंबई और कोलकाता में मैच लगा था।

पुलिस को मिल रही थी शिकायत

रायपुर शहर में आईपीएल क्रिकेट मैचों में बड़े पैमाने पर सट्टा खिलाने की सूचनाएं लगातार मिल रही थी, जिसके बाद एसएसपी अजय कुमार यादव ने सट्टे के कारोबार पर अंकुश लगाने के लिए कार्रवाई करने निर्देशित किया था। तेलीबांधा थाने की टीम को सूचना मिली थी कि हाईटेक कार में सवार होकर 7 सटोरिएं घूम-घूमकर मुंबई और कोलकाता के बीच चल रहे मैच में सट्टा खिला रहे है। जांच के दौरान पुलिस ने व्हीआईपी चौक के पास इनको धर दबोचा।

यह भी पढ़ें : IPL 2020: KXIP से हार के बाद एक और बुरी खबर, RCB के कप्तान विराट कोहली पर लगा जुर्माना

लॉकडाउन की वजह से कार में घूमकर खिला रहे थे सट्टा

पुलिस ने आरोपियों के पास से नगदी 12 हजार, 1 नग लैपटाॅप, 10 नग मोबाईल फोन, 10 करोड़ रूपए से अधिक का सट्टा पट्टी, ईको स्पोर्ट्स कार जब्त किया है। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि लाॅकडाउन होने से उन्हें होटल में कमरा या अन्य कोई सुरक्षित स्थान नहीं मिल पा रहा था, जिसकी वजह से वाहन में ही घूम -घूमकर लाइन लेकर क्रिकेट सट्टा का संचालन कर रहे थे।

पुलिस ने सभी के खिलाफ तेलीबांधा थाने में जुआ एक्ट और धारा 151 जा.फौ. के तहत अपराध दर्ज किया गया है। गिरफ्तार आरोपियों में गौरव सबरवाल, छोटे देवांगन, महेन्द्र देवांगन, मोहम्मद रईस, रितेश गोविंदानी, जितेश प्रेमचंदानी और जगजीत सिंह शामिल है।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें और Youtube  पर हमें subscribe करें। एक ही क्लिक में पढ़ें  The Rural Press की सारी खबरें।