छत्तीसगढ़ में मेडिकल ऑक्सीजन के सुलभ वितरण/ परिवहन के लिए बना राज्य स्तरीय “मेडिकल ऑक्सीजन कंट्रोल कक्ष”, जिलों में भी बनेंगे

रायपुर। राज्य में संचालित अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन के सुलभ वितरण और परिवहन सुनिश्चित करने के लिए राज्य स्तरीय ’मेडिकल ऑक्सीजन कंट्रोल कक्ष’ बनाया गया है। इसके बनने से कोविड पीड़ित मरीजों को आसानी से आक्सीजन मिलना सुनिश्चित हो सकेगा। स्वास्थ्य विभाग के विशेष सचिव सी आर प्रसन्ना द्वारा इस संबंध में आज आदेश जारी किए गए। जिला स्तर पर भी मेडिकल ऑक्सीजन कंट्रोल कक्ष’का गठन किया जा रहा है।

मेडिकल ऑक्सीजन की आवश्यकता की होगी नियमित निगरानी

राज्य स्तरीय ’मेडिकल ऑक्सीजन कंट्रोल कक्ष’ प्रदेश मे संचालित अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन की आवश्यकता की नियमित निगरानी करते हुए उसकी उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे। यह कंट्रोल रूम मेडिकल आक्सीजन के परिवहन में यदि अंतर्राज्यीय परिवहन में कोई समस्या आती है तो भारत सरकार के स्वास्थ्य विभाग के सेन्ट्रल कंट्रोल रूम से समन्वय कर समस्या का निराकरण भी करेंगे। राज्य स्तरीय समिति में के डी कुंजाम, नियंत्रक खाद्य एवं औषधि प्रशासन, वेदव्रत सिरमौर संयुक्त आयुक्त परिवहन विभाग, प्रवीण शुक्ला वाणिज्य एवं उद्याोग , हिरेन पटेल खाद्य एवं औषधि प्रशासन और डॉ वाई के शर्मा स्वास्थ्य सेवाएं सदस्य हैं।

जिला मेडिकल ऑक्सीजन कंट्रोल कक्ष भी बनाया जाएगा

जिला स्तरीय समिति, जिले स्तर पर मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता एवं निरंतरता सुनिश्चित करेगी और किसी प्रकार की कठिनाई होने पर राज्य स्तरीय समिति से समन्वय कर उसे दूर करेगी। जिला दंडाधिकारी द्वारा महाप्रबंधक उद्योग,क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी,मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी,सहायक औषधि नियंत्रक या औषधि निरीक्षक की समिति गठित कर जिला मेडिकल ऑक्सीजन कंट्रोल कक्ष बनाया जाएगा।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें और Youtube  पर हमें subscribe करें। एक ही क्लिक में पढ़ें  The Rural Press की सारी खबरें।