Monday, January 17, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeTRP Newsसुपारी किलर ने मृतका का मोबाइल चालू किया और हो गया अंधे...

सुपारी किलर ने मृतका का मोबाइल चालू किया और हो गया अंधे क़त्ल का राजफाश, हत्या के डेढ़ वर्ष बाद पुलिस को मिली सफलता

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

अंबिकापुर। सरगुजा पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। यहां के लुण्ड्रा थाना क्षेत्र में डेढ़ साल पूर्व हुई एक महिला हत्या की गुत्थी को सुलझाते हुए पुलिस ने मृतका के प्रेमी और सुपारी किलर को गिरफ्तार किया है। साइबर सेल की सक्रियता की वजह से इस मामले का खुलासा करने में सफलता मिली है।

अनसुलझे मामलों को सुलझाने की चुनौती

अंबिकापुर जिले के एसपी अमित तुकाराम कांबले ने पुराने मामलों की फाइल खोलते हुए उन्हें सुलझाने की जिम्मेदारी थानेदारों को दे रखी है।
इन्ही में से एक मामला है लुण्ड्रा थाना क्षेत्र के सेमरपारा में सुषमा पैकरा नामक महिला की हत्या का। इस महिला के कत्ल की गुत्थी को सुलझाते हुए जिले के एसपी ने बताया कि डेढ़ साल पहले 1 जून 2020 को लुण्ड्रा थाने को सूचना मिली थी कि थाना क्षेत्र के सेमरपारा में रहने वाली 30 वर्षिय महिला सुषमा पैकरा का शव उसके घर पर मिला है, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू की मगर तब इस मामले में कोई भी सुराग हाथ नहीं लगा।

जांच में गायब मिला मृतका का मोबाइल

महिला की हत्या की गुत्थी का मामला अब तक पेंडिंग रहने पर रेंज आईजी के निर्देश पर सरगुजा एसपी के द्वारा मामले की जांच पुनः शुरू की गई। नए सिरे से जांच हेतु टीम गठित कर आरोपी की धरपकड़ हेतु छानबीन शुरू की गई।
दरअसल तत्कालीन जांच अधिकारियों को मृतिका का मोबाइल फोन गायब मिला था, जिसे खोजने के लिए साइबर सेल सरगुजा के माध्यम से सर्विलांस में रखा गया था। इसी बीच पुलिस को साइबर सेल से जानकारी मिली कि ग्राम लुण्ड्रा में एक व्यक्ति दिनेश भुईहर के द्वारा मृतिका का मोबाइल इस्तेमाल किया जा रहा है।

पकड़ में आया सुपारी किलर

पुलिस ने मोबाइल का इस्तेमाल कर रहे दिनेश को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। कड़ाई से पूछताछ के बाद दिनेश ने बताया कि ठेकेदार अमित सिंह का मृतिका सुषमा के साथ अवैध संबंध था और सुषमा अमित सिंह पर शादी करने का दबाव डाल रही थी, जिसके चलते अमित सिंह ने प्रेमिका सुषमा को रास्ते से हटाने का षड्यंत्र रच डाला।

1 लाख रूपये के लालच में दिया साथ

मुख्य आरोपी अमित सिंह ने दिनेश को एक लाख रु देने का लालच दिया। इसके बाद सुनियोजित तरीके से रणनीति तैयार कर अमित सिंह व सहयोगी दिनेश दिनेश ने मिलकर सुषमा की हत्या तकिए से मुंह व गला दबाकर की। हत्या का खुलासा होने के बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर संबंधित धाराओं के तहत कार्रवाई करते हुए न्यायालय में पेश कर दिया। जिले के एसपी अमित तुकाराम कांबले ने अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाने वाली पूरी टीम को नगद इनाम देने की घोषणा भी की है ।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

RELATED ARTICLES
- Advertisment -CG Go Dhan Yojna

R.O :- 11682/ 53

Chhattisgarh Clean State

R.O :- 11664/78





Most Popular