Weather Forecast – अगले दो दिन… कई राज्यों में अलर्ट, जाने कैसा रहेगा छत्तीसगढ़ का मौसम

टीआरपी डेस्क। उत्तर भारत में शीतलहर का कहर जारी है। मौसम विभाग ने एक बार फिर अगले दो दिनों तक उत्तर भारत के कई राज्यों में गंभीर शीतलहर की संभावना जताई है। इन दिनों सर्दी से उत्तर भारत में लोगों का बुरा हाल है।

मौसम विभाग के मुताबिक, पूरे उत्तर भारत में सर्दी से लोगों का बुरा हाल है। आने वाले चार दिनों तक इसके और बढ़ने की संभावना है। आईएमडी ने उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में अगले चार दिनों तक शीतलहर को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया है। दिल्ली में शीतलहर से पारा 4 डिग्री तक नीचे चला गया है।

वहीं दूसरी तरफ घने कोहरे से उत्तर भारत में ठंड और बढ़ चली है। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली के लोधी रोड पर न्यूनतम तापमान बुधवार को 4 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग के मुताबिक, 15 जनवरी तक कड़ाके की ठंड पड़ेगी। मौसम विभाग ने राजस्थान के कई इलाकों में शीतलहर को लेकर येलो अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा दक्षिण भारत के कई इलाकों में भारी बारिश को लेकर रेड अलर्ट जारी कर दिया है।

मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में अगले 24 घंटों तक शीतलहर की चेतावनी जारी कर दी है। वहीं कई जिलों में धूप भी निकल आई है। मौसम विभाग ने कहा कि राज्य के कई जिलों में कहीं-कहीं सुबह व रात में घना कोहरा छाया रहेगा साथ ही दिन में धुप रहेगी। फिलहाल, सुबह शाम का तापमान लगातार गिरता जा रहा है। हरियाणा के अंबाला, करनाल और रोहतक में लगातार पारा गिर रहा है। जबकि चंडीगढ़ में आज न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। पंजाब और हरियाणा के अधिकतर हिस्सों में शीतलहर को लेकर अलर्ट जारी है।

छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में भी बढ़ने लगी ठंड

जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल जैसे राज्यों में बर्फबारी का दौर जारी है। हिमाचल के मैदानी जिलों में चार दिन घना कोहरा छाने की चेतावनी जारी कर दी है। वहीं प्रदेश में 5 दिनों तक साफ रहने की उम्मीद है। जम्मू-हिमाचल और उत्तराखंड के ऊंचाई वाले इलाकों में तापमान शून्य से नीचे दर्ज किया गया। अगर मध्य भारत की बात करें तो छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में भी ठंड बढ़ने लगी है। कई इलाकों में शीतलहर के आसार साफ देखने को मिल रहा है। जिसके चलते मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है। इसके साथ ही घना कोहरा छाये रहने का अनुमान लगाया जा रहा है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर…