छत्तीसगढ़ मंत्रालय-संचालनालय में 33% कर्मचारियों के साथ शुरू होगा कामकाज, फिलहाल नहीं दी जाएगी बस की सुविधा

मंत्रालय

रायपुर। छत्तीसगढ़ में सामान्य प्रशासन विभाग ने मंत्रालय और संचालनालय कार्यालयों में 33% कर्मचारियों के साथ कामकाम शुरू करने को कहा है। एक तिहाई रोस्टर की अनिवार्यता केवल कर्मचारियों के लिए है। सेक्शन अफसर और उनसे ऊपर के सभी अधिकारियों को मंत्रालय जाना अनिवार्य होगा। अभी तक सभी विभागों, मंत्रालय व दफ्तरों का कामकाज वर्क फ्राम होम के जरिए चल रहा था।

सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव डीडी सिंह द्वारा जारी आदेश के अनुसार तृतीय और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को 33% की उपस्थिति दर्ज करानी होगी। इसके विभागों को कर्मचारियों का साप्ताहिक रोस्टर बनाना होगा। यह रोस्टर केवल कर्मचारियों के लिए होगा।

मंत्रालय-संचालनालय जाने के लिए सरकार पहले की तरह सार्वजनिक बस सेवा की सुविधा नहीं देगी। कर्मचारियों-अधिकारियों को अपने अथवा विभागीय वाहनों से कार्यालय जाना होगा। ऐसा कोरोना संक्रमण को देखते हुए किया गया है।

मास्क अनिवार्य, बाहरी लोगों का प्रवेश रोका

मंत्रालय में कर्मचारियों के लिए पूरे समय कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जारी दिशा निर्देशों का पालन अनिवार्य होगा। उन्हें मास्क लगाए रखना होगा। हाथ सैनिटाइज करना और शारीरिक दूरी का पालन करना भी अनिवार्य होगा। प्रशासन ने मंत्रालय-संचालनालय में बाहरी व्यक्तियों का प्रवेश भी प्रतिबंधित कर दिया है।

अभी चल रहा था वर्क फ्रॉम होम

रायपुर में 9 अप्रैल से लॉकडाउन लगा है। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर मंत्रालय और संचालनालय सहित सभी सरकारी कार्यालय बंद कर दिए गए थे। कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम का निर्देश था। प्रशासन ने लॉकडाउन को 17 मई की सुबह 6 बजे तक के लिए बढ़ा दिया है। ऐसे में सामान्य प्रशासन विभाग नया आदेश निकालना पड़ा।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर