सेंसेक्स 324 तो निफ्टी ने लगाया 84 अंकों का गोता

नई दिल्ली। गुरुवार को घरेलू शेयर बाजारों में बड़ी गिरावट देखने को मिली। बीएसई सेंसेक्स 324 अंक या 0.83 फीसदी का गोता लगाकर 38,731 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी 50 इंडेक्स 84 अंक या 0.72 फीसदी लुढ़क कर 11,642 अंक पर पहुंच गया। बीएसई मिडकैप इंडेक्स आधा फीसदी तक गिरा। स्मॉलकैप इंडेक्स ने भी मामूली कमजोरी दर्ज की।

जानें आखिर ऐसा क्यों हुआ:

अप्रैल सीरीज के डेरिवेटिव सौदों की एक्सपाइरी के दिन बिकवाली हावी रही। सत्र के अंतिम घंटे में बिकवाली का दबाव चरम पर पहुंच गया। दरअसल, क्रूड की कीमतों में उछाल ने बाजार की चिंता बढ़ा दी है। ब्रेंट क्रूड 75 डॉलर प्रति बैरल को पार कर गया है। क्रूड में तेजी भारतीय अर्थव्यवस्था को चोट पहुंचाएगी।

इन शेयर्स में दिखी गिरावट:

निफ्टी 50 इंडेक्स पर Bharti Infratel के शेयरों में 10 फीसदी तक का गोता लगाया. इसके बाद Tata Steel, Vedanta, Maruti Suzuki, Hindalco, JSW Steel, Indiabulls Housing Finance, Axis Bank, HDFC और IndusInd Bank के शेयर सबसे ज्यादा टूटे ।  

इनमें आई तेजी:

दूसरी तरफ, Ultratech Cement के शेयरों ने 5.5 फीसदी तेजी दिखाई. इसके अलावा Grasim, Dr. Reddy’s Labs, Bharti Airtel, Bharat Petroleum, UPL, Tata Conusltancy Services, Wipro, Bajaj Auto और Bajaj Finserv के शेयरों में सबसे ज्यादा तेजी दर्ज की गई ।   गुरुवार को निफ्टी रियल्टी इंडेक्स के अलावा सभी सेक्टर के इंडेक्स लाल निशान के साथ बंद हुए। रियल्टी इंडेक्स पर इंडियाबुल्स रियल एस्टेट के शेयर 7 फीसदी तक चढ़े। मेटल और पीएसयू बैंक इंडेक्स दो-दो फीसदी तक गिरे। निजी बैंक, वित्त सेवा और FMCG इंडेक्स एक-एक फीसदी तक फिसले।   सरकारी बैंकों में सिर्फ जम्मू-कश्मीर बैंक के शेयर चढ़े। निजी बैंकों में एक्सिस बैंक ने सबसे ज्यादा निराश किया। FMCG शेयरों में गोदरेज कंज्यूमर प्रॉपर्टीज ने 3.5 फीसदी तक का गोता लगाया। वित्त सेवा इंडेक्स पर महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंस के शेयर 4 फीसदी टूटे। गुरुवार के कारोबारी सत्र के दौरान एनएसई की 23 कंपनियों के शेयरों ने अपने 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर हासिल किया। इसके उलट 43 कंपनियों के शेयर अपने 52 सप्ताह के न्यूनतम स्तर तक फिसले। निफ्टी 50 इंडेक्स पर केवल 11 ही शेयर हरे, जबकि 39 शेयर लाल निशान के साथ बंद हुए। बीएसई पर 1,113 शेयरों ने मजबूती के साथ और 1,388 शेयरों ने कमजोरी के साथ सत्र का अंत किया।   Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें  Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।
Back to top button