क्या लोकतंत्र व्यवस्था को ध्वस्त कर बंगाल बनाना चाहते हैं भूपेश बघेलः डॉ. रमन सिंह

रायपुर। बिजली कटौती पर वीडियो बनाए जाने पर राजनांदगांव जिले के मांगेलाल अग्रवाल पर राजद्रोह का मामले से छत्तीसगढ़ की पूरी राजनीति गर्मा गई है। इस मामले में बयानबाजी का दौर चल पड़ा है। मांगेलाल अग्रवाल पर राजद्रोह का मामला बनाए जाने पर पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह ने बघेल सरकार को घेरा है।

सोशल मीडिया पर डॉ. रमन सिहं ने कहा कि क्या अब अभिव्यक्ति की आज़ादी अपराध है? जो आम नागरिक को राजद्रोह की धारा झेलनी पड़ी। क्या देश के किसी मुख्यमंत्री के पास डीजीपी को धारा हटाने का आदेश देने का संवैधानिक अधिकार है? क्या आप प्रदेश की लोकतंत्र व्यवस्था को ध्वस्त कर बंगाल बनाना चाहते हैं?


गौरतलब हो कि सोशल मीडिया पर बिजली कटौती संबंधित मामलों को लेकर भ्रामक जानकारी फैलाने के ममाले में मांगेलाल अग्रवाल के खिलाफ छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर कंपनी के द्वारा एफआईआर कराए जाने के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपी के खिलाफ लोगों में विद्रोह फैलाकर राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया था। बाद में जब यह बात मीडिया में आग की तरह फैली तो सीएम बघेल ने इस मामले से तत्काल राजद्रोह की धारा हटाने के आदेश दिए।

 

Back to top button