नक्सली

बीजापुर। छातीसगढ़ के नक्सल प्रभावित देशो में नक्सली और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ की खबर आते ही रखती है। इसी बीच नक्सली कमांडर हिडमा और उसके खूंखार साथी छत्तीसगढ़ के बीजापुर में पिछले कई दिनों से कैंप कर रहे हैं।

सुरक्षाबलों ने इस बात को लेकर अलर्ट जारी किया है कि यह नक्सली अपने गोरिल्ला साथियों के साथ सुरक्षाबलों और पेट्रोलिंग पार्टी पर हमला कर सकते हैं। सुरक्षाबलों के सूत्रों से मिली जानकारी मुताबिक 25 लाख का इनामी नक्सली कमांडर हिडमा सुकमा और बीजापुर के जंगलों में 150 से 160 की संख्या में नक्सली कैंप कर रहे हैं, जो कि सुरक्षाबलों को निशाना बना सकता है।

यही नहीं, हिडमा के एक दूसरे नक्सली कमांडर के साथ 50 से 60 की संख्या में नक्सली मिलिशिया के जरिए सुरक्षाबलों पर हमला करने की फिराक में है। हिडमा के साथ ही PLGA -1 के बारे में जानकारी मिली है कि वह इस समय बस्तर के इलाके में बीजापुर और सुकमा के आसपास सुरक्षा बलों के डर से भागता फिर रहा है।

नक्सली चला रहे है TCOC

इधर सुरक्षा एजेंसियों ने बनाया कि नक्सली टीसीओसी यानी टैक्टिकल काउंटर ऑफेंसिव कैम्पेन(TCOC) चला रहे हैं जिसमें उनका मकसद होता है कि ज्यादा से ज्यादा सुरक्षा बलों पर हमला कर उन्हें नुकसान पहुंचाना।

सूत्रों ने ये बताया है कि नक़्सलियों ने केवल छत्तीसगढ़ के साउथ बस्तर में ही टीसीओसी चलाने का प्लान नहीं बनाया है बल्कि उन्होंने काफी सालों बाद नए ट्राई जंक्शन के नज़दीक सुरक्षा बलों पर हमला करने का टीसीओसी प्लान तैयार किया है।

सुरक्षा बलों की रिपोर्ट को मानें तो नक्सली PLGA BN-1 का कमांडर मांडवी इंदुमल उर्फ “हिडमा” सुरक्षा बलों के छीने हथियार और UBGL/रॉकेट लॉन्चर से हमले की फ़िराक में है यही नहीं ये नक्सली सुरक्षा बलों के हेलीकॉप्टर को निशाना बनाने की फ़िराक में हैं। सूत्रों के मुताबिक़ सुरक्षा बलों के लिए रसद सामग्री के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले हेलीकॉप्टर को देसी रॉकेट लॉन्चर से गिरने की रणनीति बनाई है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर…

https://theruralpress.in/