टीआरपी डेस्क। पीएम मोदी आज मणिपुर और त्रिपुरा के दौरे पर हैं, जहां उनके द्वारा दोनों राज्‍यों को कई सौगातें मिलने वाली हैं। इस दौरान पीएम मणिपुर में 4800 करोड़ रुपये से अधिक लागत वाली 22 परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। इसमें लगभग 1850 करोड़ रुपये लागत वाली 13 परियोजनाओं का उद्घाटन और लगभग 2950 करोड़ रुपये लागत वाली 9 परियोजनाओं की आधारशिला शामिल है। इसके अलावा वह अगरतला में महाराजा बीर बिक्रम हवाईअड्डे पर नई एकीकृत टर्मिनल इमारत का उद्घाटन करेंगे और दो अहम विकास योजनाओं का भी शुभारंभ करेंगे।

इस लिए भी माना जा रहा यह दौरा खास

मणिपुर में विधानसभा चुनाव 2022 होने वाले हैं, ऐसे में राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री का यह पहला मणिपुर दौरा बहुत खास माना जा रहा है। इसके साथ ही आपको यह भी बता दे की केंद्रीय गृहमंत्री

अमित शाह पहले ही दिल्ली से वर्चुअल तौर पर दो जनसभाओं को संबोधित कर चुके हैं, जबकि बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पिछले तीन महीनों के दौरान चार बार मणिपुर का दौरा किया और कई जनसभाओं को संबोधित किया।

टर्मिनल भवन समेत इन 22 प्रोजेक्ट्स की देगें सौगात

  • कनेक्टिविटी में सुधार लाने के लिए देशभर में चल रही परियोजनाओं की तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 1,700 करोड़ रुपए से अधिक की लागत से बनने वाले पांच राष्ट्रीय राजमार्गों की परियोजना की नींव रखेंगे।
  • एक अन्य अहम परियोजना राष्ट्रीय राजमार्ग-37 पर बराक नदी पर 75 करोड़ रुपए की लागत से बना इस्पात का एक पुल है, जिससे इंफाल से सिलचर तक संपर्क बढ़ेगा और मोदी इसका उद्घाटन करेंगे।
  • प्रधानमंत्री मणिपुर के लोगों को करीब 1,100 करोड़ रुपए की लागत से बने 2,387 मोबाइल टावर भी समर्पित करेंगे, जिससे मोबाइल संपर्क में सुधार होगा।
  • पीएमओ ने कहा कि प्रत्येक घर तक स्वच्छ पेयजल पहुंचाने की मोदी की कवायद के तौर पर राज्य में पेयजल आपूर्ति की परियोजनाओं का उद्घाटन किया जाएगा। इनमें थोबल बहुउद्देशीय परियोजना की 280 करोड़ रुपए की जल संचरण प्रणाली शामिल है।
  • तामेंगलोंग जिले की दस बस्तियों के निवासियों को सुरक्षित पेयजल उपलब्ध कराने के लिए 65 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित तामेंगलोंग मुख्यालय के लिए जल संरक्षण द्वारा जलापूर्ति योजना और क्षेत्र के निवासियों को नियमित जलापूर्ति प्रदान करने के लिए 51 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित ‘सेनापति जिला मुख्यालय जलापूर्ति योजना का विस्तार’ शामिल हैं।
  • प्रधानमंत्री इंफाल में 160 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले एक कैंसर अस्पताल की भी नींव रखेंगे। इसके अलावा कियामगेइ में 200 बिस्तरों वाले कोविड अस्पताल का भी उद्घाटन किया जाएगा।
  • राज्य में कोविड से संबंधित बुनियादी सुविधाओं को बढ़ावा देने के लिए, प्रधानमंत्री कियामगेई में ‘200 बिस्तरों वाले कोविड अस्पताल’ का उद्घाटन करेंगे, जिसे डीआरडीओ के सहयोग से लगभग 37 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित किया गया है।
  • प्रधानमंत्री 170 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से तैयार, मिशन की तीन परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे, जिनमें ‘एकीकृत कमान और नियंत्रण केंद्र (आईसीसीसी)’, ‘इंफाल नदी पर पश्चिमी नदी के किनारे का विकास (चरण-I)’और ‘थंगल बाजार में माल रोड (चरण-I) का विकास’ शामिल हैं।
  • प्रधानमंत्री करीब 200 करोड़ रुपये की लागत से राज्य में बनने वाले ‘सेंटर फॉर इन्वेंशन, इनोवेशन, इनक्यूबेशन एंड ट्रेनिंग (सीआईआईआईटी)’ की आधारशिला रखेंगे। यह परियोजना राज्य में सबसे बड़ी पीपीपी पहल है, जो राज्य में रोजगार के अवसर पैदा करने के अलावा सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र को बढ़ावा देगी।
  • प्रधानमंत्री त्रिपुरा में महाराजा बीर बिक्रम (एमबीबी) हवाई अड्डे के नए एकीकृत टर्मिनल भवन का उद्घाटन करेंगे और मुख्यमंत्री त्रिपुरा ग्राम समृद्धि योजना और विद्याज्योति स्कूल परियोजना मिशन 100 प्रमुख पहलों का शुभारंभ करेंगे।
  • विद्याज्योति स्कूल परियोजना मिशन 100 का उद्देश्य राज्य में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करना है और 100 मौजूदा उच्च/उच्च माध्यमिक विद्यालयों को अत्याधुनिक सुविधाओं और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ विद्याज्योति विद्यालयों में परिवर्तित करना है. यह परियोजना नर्सरी से बारहवीं कक्षा तक के लगभग 1.2 लाख छात्रों को कवर करेगी और अगले तीन वर्षों में लगभग 500 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर