भारत ने रचा इतिहास, 14 बार की रिकॉर्ड चैम्पियन इंडोनेशिया को हरा पहली बार जीता प्रतिष्ठित थॉमस कप

खेल डेस्क। थॉमस कप बैडमिंटन टूर्नामेंट में भारत ने इतिहास रच दिया है। टीम ने पहली बार फाइनल खिताब जीतकर गोल्ड मेडल जीत लिया है। टीम इंडिया ने फाइनल में इंडोनेशिया को 3-0 से हर दिया है। इससे पहले भारतीय टीम ने मलेशिया और डेनमार्क जैसी टीम को हराकर पहली बार फाइनल में जगह बनाई थी, ऐसे में टीम का आत्मविश्वास काफी मजबूत रहा। अब फाइनल में 14 बार की रिकॉर्ड चैम्पियन इंडोनेशिया को शिकस्त देकर इतिहास रच दिया है।

तीसरा मैच सिंगल्स में खेला गया था। इसमें किदांबी श्रीकांत और जोनातन क्रिस्टी आमने-सामने थे। मैच में शुरुआत से ही किदांबी ने अपना दबदबा बनाए रखा और क्रिस्टी को किसी भी तरह से मैच में मौका नहीं दिया। किंदाबी ने सीधे सेटों में क्रिस्टी को 21-15, 23-21 से शिकस्त दी। किदांबी की इस जीत ने टीम इंडिया को फाइनल में 3-0 से विजयी बनाया।

दूसरा मैच डबल्स में खेला गया, जिसमें भारतीय जोड़ी सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी का सामना केविन संजाया और मोहम्मद अहसान की जोड़ी से हुआ। इसमें पहला सेट इंडोनेशियन जोड़ी ने 21-18 से जीता।जबकि दूसरे सेट में भारतीय जोड़ी ने बाजी पलट दी और 23-21 से सेट जीतकर मैच बराबर किया। इसके बाद तीसरा सेट भी भारतीय जोड़ी ने 21-19 के अंतर से जीत लिया। इसी तरह लगातार भारत ने मैच में 2-0 की बढ़त बना ली।

लक्ष्य और एंथोनी सिनिसुका के बीच रोमांचक मुकाबला चला. पहला सेट एंथोनी ने 21-8 से अपने नाम किया, तो दूसरा सेट 21-17 से जीतकर लक्ष्य ने मैच बराबर कर दिया. तीसरे सेट 21-16 से जीतकर लक्ष्य ने मैच अपने नाम कर लिया।

फाइनल मैच के लिए भारतीय स्क्वॉड-

सिंगल्स: लक्ष्य सेन, किदांबी श्रीकांत, एचएस प्रणय, प्रियांशु राजावती।

डबल्स: सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी-चिराग शेट्टी, विष्णुवर्धन गौड़ पंजाला-कृष्ण प्रसाद गारगा, एमआर अर्जुन-ध्रुव कपिला।

इसी के साथ ही खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने थॉमस कप जीतने पर टीम को एक करोड़ रुपए देने की घोषणा की है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button