Big Breaking: 50 लाख लूट मामले में रायपुर पुलिस को बड़ी सफलता, 8 आरोपियों को किया गिरफ्तार

रायपुर। शहर में माना थाना क्षेत्र के देवपुरी में हुई 50 लाख की लूट के मामले में रायपुर पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। इस मामले में 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अपराध को अंजाम देने वाले 3 आरोपी अभी भी फरार हैं, जिसमे अपराध का मास्टरमाइंड देवेंद्र धृतलहरे भी शामिल है। पुलिस आरोपियों के पास से 7,95,400/- रूपये, ए.टी.एम.कार्ड एवं बैंक पास बुक ज़ब्त किया है। इसके साथ ही घटना में प्रयुक्त 5 नग मोबाईल फोन तथा 5 मोटर सायकल को भी पुलिस द्वारा ज़ब्त किया गया है। पुलिस ने पकड़ाए आरोपियों के विरूद्ध थाना माना कैम्प में धारा 395 के तहत अपराध दर्ज किया है।

डूमरतराई थोक बाजार में हेमालि का काम करने वाला ही निकला मास्टरमाइंड

सम्बंधित मामले का खुलासा करते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक तारकेश्वर पटेल ने बताया कि पुलिस को डूमरतराई थोक बाजार में काम करने वाले देवेन्द्र धृतलहरे एवं अजय उर्फ अज्जू के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा देवेन्द्र धृतलहरे की पतासाजी की जा रहीं थी। इसी दौरान आसपास के सीसीटीवी कैमरों के फुटेज तथा स्थानीय स्तर पर बारिकी से लगाये गये मुखबीरों के द्वारा केन्द्री एवं अभनपुर के कुछ युवकोें के द्वारा घटना में शामिल होने की महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई थी। जिसमें केन्द्री अभनपुर निवासी शिव कुमार कोसले का नाम प्रमुख रूप से होना पाया गया। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा शिव कुमार कोसले की पतासाजी कर पकड़ा गया।

शिव कुमार कोसले से घटना के संबंध में पूछताछ करने पर उसके द्वारा किसी भी प्रकार से घटना में अपनी संलिप्तता नहीं होना बताकर लगातार टीम को गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा था। जिस पर प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर कड़ाई से पूछताछ करने पर शिव कुमार कोसले द्वारा घटना में अपनी संलिप्तता होना बताने के साथ ही उक्त घटना को अन्य आरोपियों के साथ मिलकर कारित करना स्वीकार किया। शिवकुमार के कबूलनामे के आधार पर टीम के सदस्यों द्वारा घटना में संलिप्त आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों में दो नाबालिगों के संलिप्त होने की भी पुष्टि हुई है।

क्या था मामला

दरअसल अनाज कारोबारी नरेंद्र खेतपाल 16 मई की रात डूमरतराई के थोक मार्केट से अपने घर लौट रहे थे। रात करीब 9 बजे देवपुरी पेट्रोल पंप के समीप तीन बाइक में पीछे से आए 9 बाइक सवारों ने घेर लिया और डंडे और स्टंप से बुरी तरह से पीटा। जिसके बाद कारोबारी खून से लथपथ जब जमीन पर गिर पड़ा और मौके का फायदा उठा कर लुटेरे स्कूटी में रखे नगदी से भरा बैग लूटकर पचपेड़ी नाका की ओर भाग निकले।। आरोपी जो बैग लेकर भागे उसमें कारोबारी के बैंक अकाउंट की डिटेल्स भी थे, जिसकी मदद से बैंक खाते से केन्द्री एवं कुरूद स्थित ए.टी.एम. बूथ से स्वयं की पहचान छिपाते हुए अपने चेहरे को कपड़े से ढ़क कर बड़े ही शातिर तरीके से बदमाशों ने 40,000 कैश रकम निकाल ली थी।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button