विवादित ट्वीट पर बवाल के बाद अधीर रंजन से दिल्ली पुलिस ने मांगी ‘हैक’ डिवाइस

टीआरपी डेस्क। दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी से अपने डिवाइस को जमा करने का अनुरोध किया है। नेता ने पूर्व पीएम राजीव गांधी के 1984 के दंगों से जुड़े एक बयान का जिक्र करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी थी। उन्होंने लिखा था कि जब बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है। बाद में उन्होंने ट्वीट को डिलीट कर दिया और दावा किया कि उनका फोन हैक कर लिया गया था।

बता दें कि शनिवार को लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी के ट्विटर अकाउंट से एक पोस्ट किया गया था। इसमें पूर्व पीएम राजीव गांधी की 31वीं पुण्यतिथि पर उन्हें याद करते हुए कथित तौर पर एक विवादित बयान को कोट किया गया था। हालांकि, कुछ देर बाद इस ट्वीट को हटा दिया गया था और नया पोस्ट किया गया था। इसके बाद अधीर रंजन ने साफ भी किया था कि उनके ट्विटर अकाउंट को हैक करके एक पोस्ट किया गया। उनका इस संबंध में कोई लेना-देना नहीं है।

जांच के लिए डिवाइस उपलब्ध कराएं

मामले में जांच कर रही दिल्ली पुलिस ने अधीर रंजन चौधरी से अपनी डिवाइस जमा करने का अनुरोध किया, जिसके बारे में उन्होंने दावा किया था कि इसे ‘हैक’ कर लिया गया था। दिल्ली पुलिस ने कहा- इस मामले को हमारे संज्ञान में लाने के लिए धन्यवाद। आपसे अनुरोध है कि आगे की जांच करने के लिए आप हमें वो डिवाइस उपलब्ध कराएं, जिसके बारे में आपने दावा किया है कि अकाउंट को हैक किया गया है। आपके सहयोग के लिए तत्पर हैं. विधिक कार्यवाही की जा रही है।

भाजपा ने कहा- सिख भावनाओं को ठेस पहुंचाई

वहीं, अधीर रंजन के ट्विटर अकांउट से कथित विवादित ट्वीट के बाद भाजपा ने हमला बोल दिया था। इस ट्वीट को 1984 के दंगों से जुड़े पूर्व पीएम राजीव गांधी के कथित बयान से जोड़कर देखा जाने लगा था। भाजपा नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा था कि ये ट्वीट सिखों की भावनाओं को आहत करने के लिए किया गया है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button