पूर्व मुख्यमंत्री ने की पत्रकार वार्ता, बोले – “आज KGF की कहानी छत्तीसगढ़ में दोहराई जा रही है”

रायपुर। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ रमन सिंह ने आज अपने निवास स्थान पर प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। प्रेस कॉन्फ्रेंस की शुरुआत में उन्होंने केंद्र को धन्यवाद देते हुए कहा कि केंद्र सरकार किसानों के हित में काम कर रही है। उनके द्वारा धान का समर्थन मूल्य 8 सालों में ₹680 की बढ़ोत्तरी के साथ सीधा ₹2040 पहुंच गया है।

गांधी परिवार की सेवा में निकला है 4 साल

पूर्व मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर तंज कसते हुए कहा कि भूपेश बघेल सरकार के पौने 4 साल डेवलपमेंट के नाम पर कुछ भी नहीं किया है। इनकी यह सरकार विकास और विकास कार्यों से छूते हैं। इनको ने 4 सालों में इन पौने 4 सालों में भूपेश बघेल की सरकार का काम केवल गांधी परिवार की सेवा करना रहा है और इनके 4 साल गांधी परिवार की सेवा में ही निकल गए हैं। इसके बाद उन्होंने प्रदेश को एटीएम बताते हुए भूपेश बघेल पर आरोप लगाया और कहा कि पूरे देश के संपूर्ण चुनावों के इलेक्शन की फंडिंग छत्तीसगढ़ से होती है जो कि जगजाहिर है।

राज्यसभा के मामले छत्तीसगढ़ को रखा उपेक्षित

राज्यसभा सीटों को लेकर कांग्रेस नेतृत्व पर सवाल उठाते हुए डॉ. रमन ने कहा कि आज छत्तीसगढ़ की जनता ने उन्हें इतना बड़ा जनाधार दिया है। 90 में से 70 सीटें दी और पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई। उसके बाद भी छत्तीसगढ़ राज्यसभा के लिए गांधी परिवार ने छत्तीसगढ़ की उपेक्षा करते हुए लगातार चार राज्यसभा चुनाव में कभी बिहार, कभी दिल्ली, कभी उत्तरप्रदेश के लोगों को यहां पर टिकाया है।

माफिया को मिल रहा है खुला संरक्षण

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने हाल ही में ओपी चौधरी द्वारा ट्विटर पर शेयर किए गए एक वीडियो की तरफ इशारा करते हुए कहा कि आज कोरबा की स्थिति धनबाद की तरह हो चुकी है। जिस प्रकार धनबाद में कोई माफिया एकत्रित होकर कोयले की तस्करी करता है, वैसा ही यहां भी हो रहा है। डॉ. रमन ने आगे कहा की कोरबा में ₹25 प्रति टन की वसूली की जा रही है। आज फिल्म KGF की कहानी छत्तीसगढ़ में दोहराई जा रही है।

उन्होंने कोरबा के वर्त्तमान कलेक्टर पर भी आरोप लगाए। पूर्व सीएम ने कहा कि कोरबा कलेक्टर के संरक्षण में वहां के अधिकारी कोयले की तस्करी में लिप्त हैं। ये वही कलेक्टर है जिन पर मंत्री द्वारा भ्रष्टाचार में लिप्त होने के आरोप भी लगाए गए हैं। यहां माफिया को कांग्रेस का पूर्णता संरक्षण प्राप्त है क्योंकि बिना संरक्षण के कोयले का एक टुकड़ा भी नहीं ले जाया जा सकता है। कोयले की अवैध वसूली में सभी को पैसा मिल रहा है और जब इस घटना के लिए पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी एक वीडियो जारी करते हैं, जो कि बहुत पुराना वीडियो था। ये वीडियो इनके लिए आईना दिखाने की तरह था जिसके बाद उन पर एफ.आई.आर दर्ज करा दिया गया है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button