केंद्र सरकार का बड़ा फैसला- अग्निपथ योजना में आयु सीमा 21 से बढ़ कर हुई 23 साल

नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा हाल ही लांच किए गए अग्निपथ पथ योजना में आयु सीमा को लेकर बड़ा बदलाव किया गया है। केंद्र सरकार के इस फैसले से अब अग्निपथ योजना के तहत सेना में भर्ती होने के इच्छुक युवा 21 की जगह 23 साल की उम्र में भी भर्ती हो सकेंगे। सरकार की इस फैसले से उन हजारों युवाओं को फायदा होगा जिन्होंने 21  साल की उम्र पार कर चुके हैं और सैनिक बन कर देश की सेवा करने की तैयारी कर रहे हैं।  

2022 के लिए प्रस्तावित भर्ती के लिए आयु में छूट सिर्फ एक बार दी जाएगी। पहले इस योजना के लिए आयु सीमा 17.5 से 21 वर्ष निर्धारित की गई थी। योजना की घोषणा के दो दिनों के भीतर अपने पहले संशोधन में केंद्र ने कहा, ‘इस तथ्य का संज्ञान लेते हुए कि पिछले दो साल के दौरान भर्ती करना संभव नहीं था, सरकार ने यह फैसला किया है कि 2022 के लिए प्रस्तावित भर्ती प्रक्रिया में एकमुश्त छूट दी जाएगी।

आयु सीमा को लेकर भी हो रहा था विरोध

केंद्र ने कहा क़ि इसके अनुसार 2022 में अग्निपथ योजना के लिए भर्ती प्रक्रिया की ऊपरी आयु सीमा को बढ़ाकर 23 वर्ष कर दिया गया है।’ 21 साल की ऊपरी आयु सीमा उन कई मुद्दों में से एक थी जिसके कारण प्रदर्शनकारी भर्ती योजना का विरोध कर रहे हैं। योजना के खिलाफ विरोध की घोषणा करने वाली कांग्रेस ने भी इस मुद्दे को उठाते हुए कहा है कि महामारी के कारण पिछले दो साल से सेना में भर्ती रुकी हुई थी और कई पद खाली पड़े हैं।

सरकार ने जारी किए कई स्पष्टीकरण

केंद्र सरकार ने कई स्पष्टीकरण जारी किए हैं जिसमें कहा गया है कि 4 साल की योजना के बाद जो अग्निवीर रिटायर हो जाएंगे, उन्हें बिजनस, एजुकेशन और अन्य नौकरियों आदि को आगे बढ़ाने के लिए सरकार की ओर से सहायता दी जाएगी। इसमें 11.72 लाख रुपए का वित्तीय पैकेज शामिल होगा जो प्रत्येक अग्निवीर को दिया जाएगा ताकि वे कोई उद्यम शुरू कर सकें।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button