दिल्ली के 11 स्थानों पर बनाएंगे फूड ट्रक हब, लजीज व्यंजन के साथ होगा मनोरंजन

अरविंद केजरीवाल

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के सयोंजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल दिल्लीवासियों के लिए एक नई  योजना की शुरुआत करने जा रहे है। योजना के अनुसार दिल्ली के 11 स्थानों पर फूड ट्रक हब बनाए जाएंगे। दिल्ली सरकार की इस योजना में लजीज व्यंजन के साथ ही मनोरंजन भी किया जा सकता है।

सीएम केजरीवाल द्वारा शुरू की जा रही इस योजना  से  दिल्लीवालों को आधी रात के बाद खाने की तलाश में भटकना नहीं पड़ेगा। केजरीवाल सरकार राजधानी में फूड ट्रक नीति के तहत 11 फूड ट्रक हब बनाएगी, जहां लोगों को न सिर्फ लजीज व्यंजन मिलेंगे, बल्कि उनका मनोरंजन भी होगा।

फूड ट्रक हब के लिए कुल 30 जगहें चिन्हित की गई है। इनमें से पहले चरण में 11 जगहों पर फूड ट्रक हब खोले जाएंगे। दिल्ली के सभी 11 जिलों में एक-एक फूड ट्रक हब खोला जाएगा। यह जगह रात दो बजे तक खुली रहेंगी। अधिकारियों की मानें तो पर्यटन विभाग को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। अभी जिन 30 जगहों को चिन्हित किया गया है उसमें मेट्रो स्टेशन, पर्यटन स्थल, प्राचीन स्थल के परिसर समेत वे जगहें शामिल हैं, जहां पर्यटकों के साथ स्थानीय लोग भी मौज-मस्ती के लिए बड़ी संख्या में जाते हैं। हालांकि इनमें से पहले चरण में कुल 11 जगहों पर फूड ट्रक हब खोले जाएंगे। यहां पर प्लग एंड प्ले के आधार पर ही फूड ट्रक लगाने की व्यवस्था होगी।

अर्थव्यवस्था को फायदा

सरकार लंबे समय से रात्रि की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने की दिशा में काम कर रही है, इसलिए फूड ट्रक हब को रात 8 बजे से रात 2 बजे तक खोलने की योजना बनाई गई है। खाने के अलावा यहां लोगों को प्रस्तुति देने के लिए अलग से जगह दी जाएगी। अगर कोई अपने संगीत, गिटार या नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत करना चाहता है तो उसे वहां जगह उपलब्ध कराई जाएगी।

60 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

दिल्ली सरकार ने रोजगार बजट में दिल्ली में फूड ट्रक पॉलिसी लॉन्च करने की घोषणा की थी। सरकार का मकसद इसके जरिये रोजगार उपलब्ध कराना था। सरकार का अनुमान है कि इस के जरिए 60 हजार लोगों को प्रत्यक्ष व अप्रत्क्ष रूप से रोजगार मिलेगा। पर्यटन बढ़ेगा तो अर्थव्यवस्था को भी फायदा मिलेगा।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button