केंद्र सरकार का बड़ा फैसला- दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा में तैनात CISF के लिए 3,200 अतिरिक्त ‘बुलेट प्रूफ जैकेट’ खरीद को दी मंजूरी

नई दिल्ली। देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मेट्रो की सुरक्षा में तैनात CISF जवानों के लिए केंद्र सरकार ने  बड़ा कदम उठाया है। दिल्ली मेट्रो सहित सरकारी प्रतिष्ठानों और वीआईपी सुरक्षा में तैनात केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल  के जवानों के लिए 3,200 अतिरिक्त ‘बुलेट प्रूफ जैकेट’ और हेलमेट की खरीद को मंजूरी दे दी है।

एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यह खरीद 16.51 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत में की जाएगी। सीआईएसएफ दिल्ली मेट्रो के स्टेशनों के अलावा राष्ट्रीय राजधानी में सरकारी भवनों जैसे नॉर्थ ब्लॉक में गृह तथा वित्त मंत्रालय, शास्त्री भवन, कृषि भवन, उद्योग भवन की सुरक्षा का जिम्मा संभालती है।

एक अधिकारी के मुताबिक, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली मेट्रो, सरकारी इमारतों की सुरक्षा (जीबीएस) और विशेष सुरक्षा समूह (एसएसजी) में तैनात सीआईएसएफ जवानों की संख्या बढ़ाने के लिए 3,180 बुलेटप्रूफ जैकेट और हेलमेट की खरीद को मंजूरी दी है।

सीआईएसएफ की जीबीएस इकाई सरकारी भवनों को सुरक्षा प्रदान करती है, जबकि एसएसजी केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा अनुशंसित शीर्ष गणमान्य लोगों की सुरक्षा का जिम्मा संभालता है। दिल्ली मेट्रो नेटवर्क में वर्तमान में सीआईएसएफ के करीब 13,000 जवान तैनात हैं। वहीं, जीबीएस और एसएसजी में तैनात इन जवानों की संख्या तीन-तीन हजार है। 

Back to top button