प्रधानमंत्री मोदी ने अल्पसंख्यकों तक पहुंचने का बनाया प्लान

नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में आगामी विधानसभा चुनाव के साथ ही 2024 में लोकसभा का चुनाव होना है। चुनाव को लेकर सभी बड़े राजनीतिक दलों के साथ ही अन्य क्षेत्रीय पार्टियों में सक्रियता बढ़ गई है और बैठकों का दौर जारी है। देश की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा अब मेकओवर की तैयारी में है। खबर है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल में ईसाई और मुस्लिम समुदाय तक पहुंच बढ़ाने का प्लान तैयार किया है। तेलंगाना में हाल ही में भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई थी, जिसमें पीएम मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह समेत कई बड़े नेताओं ने शिरकत की थी।

मिली जानकारी के अनुसार पीएम मोदी ने पूर्वोत्तर के नेताओं से ईसाई समुदाय के जरिए केरल में पार्टी आधार बढ़ाने का काम सौंपा है। साथ ही इन नेताओं और विधायकों को भाजपा के केवल हिंदू पार्टी होने की गलत धारणा खत्म करने के लिए भी कहा गया है। खास बात है कि पूर्वोत्तर के अधिकांश भाजपा नेता ईसाई संप्रदाय से आते हैं। ऐसे में पार्टी को उम्मीद है कि वह उनके जरिए केरल में समुदाय तक पहुंच बढ़ा सकती है।

मिली जानकारी के अनुसार पूर्वोत्तर भारत, गोवा और केरल में ईसाई समुदाय के प्रभाव वाले ऐसे समुदायों से भी जुड़ने की कोशिश की जा रही है। सूत्रों ने बताया कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने सुझाव लिया है और कहा है कि पार्टी पहल करेगी।

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पीएम मोदी ने भाजपा नेताओं से सबसे ज्यादा पिछड़े माने जाने वाले पसमांदा मुसलमानों तक भी पहुंचने के लिए कहा है। उन्होंने अन्य समुदाय के ऐसे वर्गों का भी जिक्र किया था, जो सुविधाओं से वंचित हैं। पीएम ने नेताओं से इन समुदायों के मुद्दों को उठाने और उन तक पहुंचने के लिए कहा था। उन्होंने नेतृत्व से राज्य में सामाजिक समीकरणों के साथ प्रयोग और यह देखने के लिए भी कहा है कि पार्टी ऐसे वर्गों तक पहुंच बना सकती है या नहीं, जो उसके खिलाफ मतदान करते हैं।
इसके जरिए भाजपा को उम्मीद है कि वो अपने खिलाफ कांग्रेस और वामपंथी प्रोपेगैंडा का भी सामना कर सकेगी, जिसमें उसके कट्टर हिंदुत्व से जुड़े होने की बात कही जाती है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button