दंतेवाड़ा में 18 लाख के 3 नक्सलियों ने किया लोन वर्राटू अभियान के तहत आत्मसमर्पण

० अब तक कुल 549 नक्सलियों ने किया है के तहत आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास नीति ‘‘लोन वर्राटू अभियान‘‘ (घर वापस आईये) के अंतर्गत आज गुरूवार को कुल 18 लाख रूपए के तीन इनामी नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया। इन तीन आत्मसमर्पित नक्सलियों में से दो पर 5-5 लाख रूपए एवं एक पर 8 लाख रूपये का इनाम राज्य शासन द्वारा घोषित किया गया था।

आधारहीन विचारधारा एवं उनके शोषण, अत्याचार तथा स्थानीय आदिवासियों पर होने वाले नक्सली हिंसा से तंग आकर इन्होने आत्मसमर्पण किया है। इनके द्वारा ये आत्मसमर्पण नक्सलियों के द्वारा प्रतिवर्ष मनाये जाने वाले शहीद सप्ताह (28 जुलाई – 3 अगस्त) के पहले दिन किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार तीनो आत्मसमर्पित माओवादी पुलिस पर घात लगाकर हमला करने जैसी घटनाओ में शामिल थे। जिनमे से दो आत्मसर्पित माओवादी बटालियन टीम के सदस्य थे वहीं एक माओवादी कंपनी नं. 2 का सदस्य था। ये तीनो पिछले 10 से 11 सालों से नक्सल संगठन में सक्रिय बताये गए हैं।

बहरहाल अब इन तीनो नक्सलियों ने दंतेवाड़ा पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर समाज की मुख्यधारा से जुड़ने का निर्णय लिया है। बता दें कि शासन द्वारा नक्सलियों को मुख्यधारा से जोड़ने लोन वर्राटू अभियान चला रही है. अबतक इस अभियान के द्वारा 136 इनामी माओवादी सहित कुल 549 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button