छत्तीसगढ़ बिग ब्रेकिंगः :​​​​​​​बैकुंठपुर में 4.6 तीव्रता का भूकंप, चरचा अंडरग्राउंड माइंस में गोफ गिरने से 2 मजदूर घायल, जुलाई में दूसरी बार भूकंप के झटके

Chhattisgarh Big Breaking: : 4.6 magnitude earthquake in Baikunthpur, 2 workers injured due to goof falling in Charcha underground mines, second time earthquake tremors in July

बैकुंठपुर/बिलासपुर। (4.6 magnitude earthquake in Baikunthpur, 2 workers injured due to goof falling in Charcha underground mines, second time earthquake tremors in July) छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में गुरुवार देर रात भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिएक्टर स्केल पर इसकी क्षमता 4.6 थी।

(4.6 magnitude earthquake in Baikunthpur, 2 workers injured due to goof falling in Charcha underground mines, second time earthquake tremors in July) भूकंप का केंद्र बैकुंठपुर में जमीन से 16 किमी अंदर बताया जा रहा है। महज दो सेकेंड के लिए झटका महसूस हुआ। इसके चलते चरचा अंडरग्राउंड माइंस में गोफ गिरने से 2 मजदूर घायल हो गए। उन्हें बिलासपुर रेफर किया गया है। 18 दिन में यहां दूसरी बार भूकंप के झटके लगे हैं।

(4.6 magnitude earthquake in Baikunthpur, 2 workers injured due to goof falling in Charcha underground mines, second time earthquake tremors in July) जानकारी के मुताबिक, देर रात करीब चरचा कालरी क्षेत्र में रात 12.58 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए। महज 2 सेकेंड के लिए आए इस झटके का पता ज्यादातर लोगों को नहीं चला। झटकों की वजह से चरचा अंडर ग्राउंड कोल माइंस में गोफ गिर गया। इसके बाद भागते समय दो मजदूर घायल हो गए। दोनों मजदूरों को अपोलो अस्पताल रेफर किया गया है। इस दौरान माइंस में एक दर्जन से ज्यादा श्रमिक काम कर रहे थे।

(4.6 magnitude earthquake in Baikunthpur, 2 workers injured due to goof falling in Charcha underground mines, second time earthquake tremors in July) बता दें कि जुलाई में दूसरी बार बैकुंठपुर में भूकंप के झटके महससू किए गए। इससे पहले 11 जुलाई को 4.3 तीव्रता का झटका आया था। उस समय जान-माल का कोई नुकसान नहीं हुआ था। तब भी दो सेकेंड के लिए ही झटके लगे थे और केंद्र बैकुंठपुर से पश्चिम-उत्तर दिशा में 16 किमी दूर और जमीन से 10 किमी अंदर था। इससे पहले 16 मार्च को भी अंबिकापुर संभाग में भूकंप के झटके महसूस किये गए थे। तब रिक्टर पैमाने पर 3.1 तीव्रता के भूकंप मापा गया था।

Back to top button