देश में हुई मंकीपॉक्स वायरस से पहली मौत, UAE से आया था संक्रमित

तिरुवनंतपुरम। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच विश्व भर में फैल चुके बेहद खतरनाक वायरस मंकीपॉक्स देश के कई राज्यों में फैल चुका है और लोगों को संक्रमित कर रहा है। केरल में मंकी पॉक्स से पहली मौत होने की  पुष्टि हुई है।  
 केरल सरकार ने रिपोर्ट आने के बाद पुष्टि की, कि 30 जुलाई को 22 वर्षीय जिस व्यक्ति की मौत हुई थी वह मंकीपॉक्स से संक्रमित था। इस तरह देश में मंकीपॉक्स से यह पहली मौत है। वहीं इस मामले के बाद एक अधिकारी ने बताया, ‘हम यूएई के अधिकारियों से यह जानने के लिए मिले हैं कि मंकीपॉक्स वायरस की पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बावजूद युवक को विमान में चढ़ने की अनुमति क्यों दी गई। हम अपने हवाई अड्डों पर सभी की कड़ी जांच कर रहे हैं ।

वहीं, राज्य के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने यहां संवाददाताओं से कहा कि राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान , पुणे को भेजे गए नमूनों में संक्रमण मिला और यह पश्चिम अफ्रीकी संस्करण था। विजयन ने कहा कि 22 जुलाई को राज्य पहुंचा यह व्यक्ति इससे पहले 19 जुलाई को संयुक्त अरब अमीरात में मंकीपॉक्स से संक्रमित पाया गया था।

 राज्य की स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज ने एक विज्ञप्ति में कहा कि उसकी  तबीयत बिगड़ने के बाद उसे 27 जुलाई को त्रिशूर स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन उसके रिश्तेदारों ने यूएई से मिली जांच रिपोर्ट के बारे में 30 जुलाई को अस्पताल के अधिकारियों को सूचित किया। जॉर्ज ने कहा कि संबंधित व्यक्ति के परिवार के सदस्यों, दोस्तों, एक सहायक और फुटबॉल खेलने वालों सहित 20 लोग उसके साथ उच्च जोखिम श्रेणी के संपर्क में आए। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक उच्चस्तरीय राज्य चिकित्सा बोर्ड द्वारा विस्तृत जांच की जाएगी। जॉर्ज ने रविवार को कहा था कि मरीज युवा है और उसे कोई अन्य बीमारी या स्वास्थ्य समस्या नहीं है तथा इसलिए स्वास्थ्य विभाग उसकी मौत के कारणों की जांच कर रहा है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button