थर्ड वर्ल्डवार की आहटः आठ फाइटर जेट और यूएस के दर्जनों युद्धपोत की सुरक्षा में ताइवान पहुंची नैंसी पेलोसी, 10 किलोमीटर की दूरी पर तैनात है चीनी युद्धपोत

बीजिंग/ताइवे/वाशिंगटन। अमेरिकी संसद की स्पीकर नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा को लेकर दुनिया में तीसरे विश्व युद्ध की सुगबुगाहट बढ़ने लगी है। इस बची नैंसी पेलोसी पर चीन की धमकियांं का अनसुना कर मंगलवार को वह ताइवान पहुंच चुकी हैं। इससे पहले चीनी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने बताया दावा किया था कि एक बोइंग सी-40सी कथित तौर पर नैंसी पेलोसी को ताइपे की ओर लेकर जा रहा है। एनएचके की रिपोर्ट के अनुसार पेलोसी की फ्लाइट को सुरक्षा प्रदान करने के लिए जापान के ओकिनावा में एक अमेरिकी बेस से 8 यूएस एफ-15 फाइटर जेट और 5 टैंकर विमानों ने उड़ान भरी।

ताइपे में उतर चुका पेलोसी का विमान

बता दें कि चीन की धमकी के बावजूद पेलोसी का विमान ताइवान के एयरस्पेस में प्रवेश कर ताइपे में उतर चुका है। एक न्यूज वेबसाइट ने दावा किया कि पेलोसी का विमान साउथ चाइना सी और चीन के लड़ाकू विमानों से बचने के लिए पूर्वी तरफ से ताइवान में प्रवेश कर चुका है। खबर आ रही है कि चीन के एसयू-35 लड़ाकू विमान ताइवान जलक्षेत्र को पार कर रहे हैं। इस बीच सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे वीडियो में चीन की सेना समुद्र के किनारे नजर आ रही है जहां से ताइवानी द्वीप सिर्फ 10 किमी दूर नजर आ रही है।

अमेरिकी वायुसेना को गोलीबारी करने की छूट

बताया जा रहा है पेलोसी को ताइवान ले जाने वाले विमान पर किसी भी चीनी हस्तक्षेप की स्थिति में अमेरिकी वायु सेना को गोलीबारी करने की छूट मिल चुकी है। वहीं पेलोसी के उतरने से पहले चीन ने ताइवान के ऊपर के हवाई क्षेत्र को सभी नागरिक विमानों के लिए बंद कर दिया था। एक वीडियो ताइवान की सबसे ऊंची इमारत पेलोसी का स्वागत करती दिख रही है जिसपर ’स्पीकर पेलोसी, ताइवान में स्वागत है’ फ्लैश हो रहा है। फिलहाल चीन की चेतावनी के बाद हालात बेहद तनाव पूर्ण बने हुए हैं जरा से उत्तेजना दुनिया को तीसरे विश्व युद्ध की ओर ढकेल सकती है।

आमने-सामने अमेरिका और चीन की सेनाएं

अमेरिका ने मंगलवार को चार युद्धपोत और एक एयरक्राफ्ट कैरियर ताइवान के पूर्व में तैनात किए जिसे अमेरिकी नौसेना ने ’रूटीन तैनाती’ बताया। इससे पहले अमेरिका ने अपने दो एयरक्राफ्ट कैरियर, दर्जनों युद्धपोत और 3 सबमरीन को ताइवान की सीमा के बेहद करीब भेजा था। वहीं चीन ने भी बड़े पैमाने पर घातक युद्धपोत और फाइटर जेट ताइवान की ओर तैनात किए हैं।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button