नई दिल्ली।  कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का चुनाव लड़ना लगभग तय माना जा रहा है।  कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गंधी से 10 जनपथ पर अशोक गहलोत की करीब 2 घंटे तक बैठक चली।

आपको बता दे कि कांग्रेस अध्यक्ष पद चुनाव को लेकर पार्टी के अंदर गहमा गहमी तेज हो गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि सोनिया कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में किसी भी नेता का पक्ष नही लेंगी।


इस बैठक में गहलोत ने विधयाकों से कहा कि पहले वह राहुल गांधी को चुनाव लड़ने के लिए मनाएंगे और अगर वो नहीं माने तो खुद नामांकन करेंगे। बैठक में मौजूद सूत्रों ने बताया कि अशोक गहलोत ने विधायकों से कहा कि वो बुधवार को दिल्ली जाएंगे और पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे, फिर शाम में फ्लाइट से केरल जाएंगे, जहां राहुल गांधी पदयात्रा कर रहे हैं।


उधर, कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव से पहले कई कांग्रेसी नेता इस पद के लिए खुदको रेस में बता रहे हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भी इस पद के लिए अपने नाम को शामिल किए जाने का इशारा किया है। उन्होंने कहा कि आप मुझे इस रेस बाहर क्यों रख रहे हैं, खास बात ये है कि दिग्विजय सिंह से पहले अशोक गहलोत और शशि थरूर भी इस पद के लिए खुदको दावेदार बताया है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर