टीआरपी डेस्क। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ईडी के दफ्तर पहुंच चुके हैं। सीएम हेमंत सोरेन के साथ में उनके भाई विधायक बसंत सोरेन और प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद उर्फ पिंटू भी मौजूद थे। हालांकि भाई बसंत सोरेन और प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद पिंटू को गेट से भीतर नहीं घुसने दिया गया।

ईडी के समक्ष पेश होने से पहले सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि “मैं एक मुख्यमंत्री हूं। मैं एक संवैधानिक पद पर हूं, लेकिन जिस तरह से मुझे बुलाया जा रहा है, ऐसा लगता है कि मैं देश छोड़कर भाग जाऊंगा। वास्तव में, मुझे नहीं लगता कि बिजनेसमैन के अलावा, कोई नेता देश छोड़कर भागा हो।”

हेमंत सोरेन ने कहा, “मैं हैरान हूं कि एक मुख्यमंत्री पर इतना बड़ा आरोप इतने हल्के में कैसे लगाया जा सकता है।” मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने ED को एक पत्र भेजा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि पिछले दो सालों में पूरे राज्य में पत्थर खनन से कुल रॉयल्टी इनकम (Royalty Income) लगभग 750 करोड़ रुपये रही है। मुख्यमंत्री ने कहा, “आप 1,000 करोड़ रुपए के घोटाले का दावा कैसे कर सकते हैं?”

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के साथ उनके भाई विधायक बसंत सोरेन भी ईडी कार्यालय पहुंचे थे। ईडी कार्यालय के बाहर मीडियाकर्मिंयों से बात करते हुए जब उनसे पूछा गया कि झारखंड के अगले मुख्यमंत्री कौन होंगे। इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि अगले सीएम तो हेमंत सोरेन ही होंगे। बता दें कि सुरक्षा के मद्दे नजर ईडी कार्यालय के आस-पास 500 से ज्यादा पुलिस बल को तौनात किया गया है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर