नई दिल्ली। ई-कॉमर्स सेक्टर की दिग्गज कंपनी अमेजन बड़े पैमाने पर छंटनी की तैयारी कर रही है, जो अगले हफ्ते से शुरू हो सकती है। कंपनी के इस प्लान के चलते भारत में कंपनी के कर्मचारियों पर भी नौकरी जाने का खतरा है। इस बीच भारतीय श्रम मंत्रालय ने सख्त रुख अपनाते हुए कंपनी को नोटिस भेजा है।

दरअसल, Twitter और Facebook में हजारों लोगों की छंटनी का मामला अभी थमा भी नहीं था और दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी जेफ बेजोस (Jeff Bezos) के नेतृत्व वाली एमेजॉन ने बड़ी छंटनी का ऐलान कर दिया। रिपोर्ट के मुताबिक, एमेजॉन इस सप्ताह कॉर्पोरेट और IT क्षेत्र में काम करने वाले लगभग 10,000 लोगों को बाहर करने की योजना बना रहा है। जिनमें भारतीय कर्मचारी भी शामिल हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक लेबर मिनिस्ट्री ने एमेजॉन इंडिया के पब्लिक पॉलिसी मैनेजर को तलब किया है। वर्तमान में इस पद की जिम्मेदारी स्मिता शर्मा संभाल रही है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी के इस Layoff Plan को लेकर इसे लेकर कर्मचारी संघों ने नाराजगी जाहिर की है। NITES के अध्यक्ष हरप्रीत सिंह सलूजा ने कहा कि एमेजॉन के कर्मचारी, जिन्होंने कम से कम एक साल तक लगातार सेवाएं दी हैं उन्हें तब तक नौकरी से नहीं हटाया जा सकता है जब तक कि उन्हें तीन महीने पहले नोटिस नहीं दिया जाता है और सरकार से पूर्व अनुमति नहीं मिलती है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर