किसानों के साथ वादाखिलाफी, सोशल मीडिया पर ‘मेरा धान मेरा अभिमान’ कैंपेन चलाएगी कांग्रेस

रायपुर। केंद्र की मोदी सरकार का छत्तीसगढ़ के किसानों के साथ की गई वादाखिलाफी के विरोध में कांग्रेस सोशल मीडिया पर मेरा धान मेरा अभिमान नाम से बड़ा कैमपेन करने जा रही है। कांग्रेस के साथ इस कैंपेन में बड़ी संख्या में प्रदेश के किसान भी शामिल होंगे।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस का कहना है कि केंद्र की मोदी सरकार वादा खिलाफी कर रही है। केंद्र ने 60 लाख मीट्रिक टन धान छत्तीसगढ़ के किसानों से खरीदने का वादा किया था। मगर अब तक 24 लाख मीट्रिक टन धान खरीदी की ही अनुमति FCI को दी है।

प्रदेश कांग्रेस का कहना है कि केंद्र सरकार को यह आपत्ति है कि छत्तीसगढ़ सरकार किसानों को बोनस दे रही है। जो उनके हिसाब से गलत है, जिसके कारण वे FCI को धान ख़रीदने से रोक रही है।

छत्तीसगढ़ में भूपेश सरकार किसानों को धान का 1870₹ प्रति क्विंटल दे रही है। साथ ही 10000 प्रति एकड़ राजीव गांधी न्याय योजना के तहत सम्मान निधि दे रही है। इसी सम्मान निधि को बोनस बता अड़ंगा लगा रही है।

यदि बारदानों की बात भी करी जाए तो छत्तीसगढ़ सरकार ने केंद्र से 3 लाख बारदानों की मांग की गई थी। किंतु राज्य को केवल 1.45 लाख बारदाने ही आवंटित हुए। जिसमें केवल 1.05 लाख बारदाने ही प्राप्त हुए हैं। जिसके कारण भी किसानों से धान लेने में प्रदेश सरकार को बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

रमन सिंह की भाजपा सरकार पूरे 15 सालों तक सत्ता में रहने के बाद भी किसानों से 50 लाख मीट्रिक टन ही धान खरीदती थी। किंतु कांग्रेस की भूपेश सरकार 85 लाख टन से ज़्यादा खरीद रही है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर…