Saturday, November 27, 2021
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeTop Storiesऑनलाइन क्लास से वंचित करने के खिलाफ होलीक्रॉस स्कूल में पालकों का...

ऑनलाइन क्लास से वंचित करने के खिलाफ होलीक्रॉस स्कूल में पालकों का प्रदर्शन, एबीवीपी ने दिया समर्थन

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

रायपुर। फीस के लिए दबाव बनाते हुए ऑनलाइन क्लास से वंचित किये जाने के खलाफ छत्तीसगढ़ छात्र पालक संघ ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के साथ होली क्रॉस स्कूल, बैरन बाजार में जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस प्रशासन तो मौजूद रहा, मगर पूर्व में सूचना दिए जाने के बावजूद स्कूल प्रबंधन के लोग मौके से नदारद रहे। हंगामे और नारेबाजी के बाद तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा गया। एवं

छत्तीसगढ़ छात्र पालक संघ द्वारा निजी स्कूल संचालकों की मनमानी के खिलाफ लगातार संघर्ष किया जा रहा है। इनकी शिकायत पर शिक्षा विभाग द्वारा पूर्व में कार्रवाई किये जाने के बावजूद कुछ निजी स्कूल संचालकों द्वारा फ़ीस वसूली के लिए तमाम हथकंडे अपनाये जा रहे हैं। वर्तमान में होली क्रॉस स्कूल, बैरन बाजार द्वारा फ़ीस की वसूली के लिए अनेक विद्यार्थियों को ऑनलाइन क्लास से वंचित कर दिया गया है। जिससे बच्चों की पढाई प्रभावित हो रही है। इसीके खिलाफ यह प्रदर्शन छत्तीसगढ़ छात्र पालक संघ और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने संयुक्त रूप से किया। इस दौरान सुरक्षा के बतौर पुलिस बल मौजूद रहा।

प्रबंधन ने नहीं दिखाई रूचि

होलीक्रॉस स्कूल बैरन बाजार के समक्ष प्रदर्शन के दौरान पलकों और एबीवीपी के छात्र नेताओं ने जमकर नारेबाजी की, और प्रबंधन से मुलाकात की कोशिश की मगर उन्हें प्रवेश द्वार पर पहले से ही टाला लगा दिया गया था। इस दौरान पुलिस ने प्रबंधन को तलब किया तो पता चला कि अंदर प्रबंधन का कोई भी शख्स मौजूद नहीं है।

इसके बाद मौके पर पहुंचे तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा गया। छत्तीसगढ़ छात्र पालक संघ और विदयार्थी परिषद ने मांग की है कि छात्रों को किसी भी वजह से ऑनलाइन क्लास से वंचित ना किया जाए, फीस को लेकर पालकों पर दबाव न बनाया जाए, ट्यूशन फीस के नाम पर अवैध वसूली पर तत्काल रोक लगाया जाए, फ़ीस के अभाव में किसी भी छात्र का अंकसूची व स्थानांतरण प्रमाण पत्र ना रोका जाए। अभाविप ने चेतावनी दी है कि अगर उनकी माँग जल्द पूरी नहीं हुई तो संगठन उग्र आंदोलन को बाध्य होगा।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएपपर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -Chhattisgarh  Adivasi Mahotsav & Rajoytsav

R.O :- 11641/ 58





Most Popular