हॉलीवुड भी कर रहा किसानों का समर्थन, दो गुटों में बंटा बॉलीवुड… MEA ने कहा- बाहरी लोग न चलाएं अपना एजेंडा

टीआरपी डेस्क। कृषि कानून के खिलाफ हो रहे किसान आंदोलन लगभग 60 दिन से ज्यादा हो चुके हैं। भारत में जारी किसान आंदोलन अब पूरी दुनिया की नज़रों में आ चूका है। जहाँ प्रियंका चोपड़ा, दिलजीत दोसांझ और स्वरा भास्कर सहित कई बॉलीवुड सेलेब्स ने किसान आंदोलन का समर्थन किया। वहीं अब हॉलीवुड सेलेब्स भी किसान आंदोलन के समर्थन में कूद पड़े हैं।

आपको बता दें, इन दिनों पॉप सिंगर रिहाना का ट्वीट सोशल मीडिया पर एक बड़ा मुद्दा बना हुआ है। उन्होने अपने ट्वीट में किसानो का समर्थन किया है। जिसके बाद रिहाना का ट्वीट देख कंगना भड़क उठी और उन्होंने कुछ आपत्तिजनक शब्द भी कह डाले।

रिहाना का ट्वीट

रिहाना ने सोशल मीडिया पर एक न्यूज शेयर करते हुए लिखा- हम इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं?” #FarmerProtest.

कंगना का करारा जवाब

कंगना ने रिहाना को जवाब देते हुए ट्वीट किया-”कोई इनके बारे में बात नहीं कर रहा है क्योंकि यह किसान नहीं हैं। यह भारत को बांटने की कोशिश कर रहे हैं ताकि चीन हमारे राष्ट्र पर कब्जा कर सके और यूएस जैसी चाइनीज कॉलोनी बना सके। तुम शांत बैठी रहो बेवकूफ.. हम तुम्हारी तरह नहीं हैं जो अपने देश को बेच दें।”

बॉलीवुड बंटा गुटों में

कंगना के इस ट्वीट के बाद हॉलीवुड ही नहीं बल्कि बॉलीवुड के सेलेब्स भी रिहाना के सपोर्ट में खड़े हो गए हैं। जिसके बाद से बॉलीवुड दो गुटों में बटता दिखाई दे रहा है।

जिनमे सबसे पहले दिलजीत दोसांझ ने रिहाना को धन्यवाद देते हुएअपने इंस्टाग्राम स्टोरी पर एक तस्वीर लगाई है। यह तस्वीर रिहाना के पॉपुलर सॉन्ग ‘Run This Town’ की है।

वहीं स्वरा भास्कर, ऋचा चड्ढा, श्रुति सेठ, शिबानी दांडेकर जैसी कई हस्तियों ने रिहाना द्वारा किसान आंदोलन पर ट्वीट किए जाने का समर्थन किया है।

हॉलीवुड बना किसानो का समर्थक

इसके अलावा क्लाइमेट चेंज एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग ने भी किसानों का सपोर्ट किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘हम भारत के किसान आंदोलन के साथ खड़े हैं।’

इसके बाद एक्ट्रेस और माॅडल अमांडा सेर्नी ने भी अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर की है। जिसके साथ कैप्शन में उन्होंने लिखा, ‘दुनिया देख रही है। इस मुद्दे को समझने के लिए आपको भारतीय, पंजाबी या दक्षिण एशियाई होने की ज़रूरत नहीं है। आपको बस मानवता की परवाह करनी है। हमेशा बोलने की स्वतंत्रता, प्रेस की स्वतंत्रता, बुनियादी मानव और नागरिक अधिकारों, समानता और श्रमिकों के लिए गरिमा की मांग करें।’

इसके साथ ही मशहूर यूट्यूबर लिली सिंह ने भी किसान आंदोलन का समर्थन किया है। उन्होंने रिहाना के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए उनका शुक्रिया भी अदा किया है। लिली सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘शुक्रिया रिहाना। यह यह मानवता का मुद्दा है’।

विदेश मंत्रालय ने की टिप्पणी

इनके अलावा और भी कई अंतरराष्ट्रीय हस्तियों ने किसान आंदोलन के समर्थन में सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। सोशल मीडिया पर यह प्रतिक्रियाएं बढ़ी तेज़ी से वायरल हो रहीं हैं। कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसानों के आंदोलन का मुद्दा अंतरराष्ट्रीय होता देख अब विदेश मंत्रालय ने इस पर टिप्पणी की है।

कुछ लोग अपना एजेंडा थोपने में लगे हैं

विदेश मंत्रालय द्वारा बुधवार को एक बयान जारी किया गया। भारत ने कहा कि यह देखकर दुख हुआ कि कुछ संगठन और लोग अपना एजेंडा थोपने के लिए इस तरह का बयान जारी कर रहे हैं। किसी भी तरह का कमेंट करने से पहले तथ्यों और परिस्थितियों की जांच करना जरूरी है।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि किसानों के आंदोलन में कुछ लोग अपना एजेंडा थोपने में लगे हैं, जिसके कारण गणतंत्र दिवस के दिन हिंसा भी हुई और इसके अलावा दुनिया के कुछ हिस्सों में महात्मा गांधी की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाया गया। ऐसे में अभी जो आंदोलन हो रहे हैं, उन्हें भारत के आंतरिक मसला माना जाना चाहिए।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर…