गणतंत्र दिवस में हुए हिंसक प्रदर्शन पर दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा पर कंगना ने निकाली भड़ास कहा- ”यही चाहिए था तुम लोगों को”

टीआरपी डेस्क। गणतंत्र दिवस के मौके पर हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद से कंगना रनौत लगातार इस आंदोलन पर सवाल खड़े कर रहीं हैं। कभी वह वीडियो जारी कर रही हैं तो कभी ट्वीट पर ट्वीट किये जा रहीं हैं। इस बार कंगना ने एक्टर दिलजीत दोसांझ के साथ प्रियंका चोपड़ा से भी सफाई मांगी है।

कंगना ने लिखा, ”दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा को इसे एक्सप्लेन करने की जरूरत है। आज पूरी दुनिया हमारे ऊपर हंस रही है। यही चाहिए था न तुम लोगों को, बधाई हो।”

https://twitter.com/KanganaTeam/status/1354002309974532096

आपको बता दें, कंगना रनौत कृषि कानून का समर्थन कर रही हैं। वहीं दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा किसानों का समर्थन करते दिखे। प्रियंका ने लिखा था- किसान तो हमारे सैनिक हैं। उनके हर डर को खत्म करना जरूरी है। उनकी उम्मीदों का पूरा होना जरूरी है। लोकतंत्र होने के नाते हमारी जिम्मेदारी है कि ये विवाद जल्द सुलझ जाए।  

कंगना ने एक और ट्वीट में लिखा, ‘अनपढ़ गंवार मोहल्लों में किसी के घर शादी या कोई अच्छा त्योहार आए तो जलने वाले ताऊ/चाचा/चाची कपड़े धोना या बच्चों को आंगन में शौच करवाना या खटिया लगाक बीच आंगन में शराब पीकर नंगे होकर सो जाना, वही हाल हो गया है इस गंवार देश का। शर्म कर लो आज #RepublicDay.’

किसानों का प्रदर्शन दिलजीत के चेहरे पर थप्पड़

वहीं एक यूजर ने दिलजीत पर गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि- ”किसानों का प्रदर्शन दिलजीत के चेहरे पर थप्पड़ है।” यूजर ने अपने ट्वीट में कंगना रनौत को भी टैग कर रखा था। जिस पर एक्ट्रेस ने इस पर रिएक्ट किया।

कंगना ने कहा- ये दिलजीत के चेहरे पर थप्पड़ नहीं है। यही तो वो चाहता था। उसे जो चाहिए था वो इस देश ने थाली में सजाकर दे दिया। कंगना का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

अब आंतकवाद इस देश की दिशा तय करेगा, सरकार नहीं

साथ ही कंगना ने एक और गंभीर मुद्दे पर ट्वीट में करते हुए लिखा- संदेश स्पष्ट है, अब कोई रीफॉर्म या जरूर बदलाव नहीं होंगे। आंतकवाद इस देश की दिशा तय करेगा, सरकार नहीं। इस ट्वीट के साथ कंगना ने दो तस्वीरों को भी साँझा किया। एक फोटो में नागरिकता कानून के खिलाफ हो रहा प्रदर्शन दिखाया गया है, वहीं दूसरी फोटो में किसान आंदोलन की झलक मिल रही है।

जो किसान आंदोलन का सपोर्ट करें, उनको जेल में डालो

इसके बाद कंगना ने एक वीडियो भी जारी किया। जिसमे उन्होंने कहा कि, ‘कैसे आज गणतंत्र दिवस के दिन लाल किले पर हमला किया गया है। वहां खालिस्तान का झंडा लहराया गया है। यह साल पूरे देश के लिए कितना मुश्किल रहा। लेकिन आप देख रहे हैं कि कैसे पूरे देश को झुंझलाकर रख दिया है।

इन लोगों को जो खुद को किसान कह रहे आतंकी है। जो इनको प्रोत्साहन दे रहे हैं और देते आए है। सबका तमाशा बनाकर रख दिया है। इसके बाद दुनिया में हमारी इज्जत नहीं रही। जब भी देखो हम गंवारों की तरह, जब दूसरे देश का कोई आता है, हम बस नंगे होकर बैठ जाते हैं। इस देश का कुछ नहीं होने वाला है।

देश कहीं नहीं जा रहा है। कोई देश को एक कदम आगे ले जाता है ये 10 कदम पीछे ले जाते हैं। मैं तो कहूंगी उन सबको जेल में डालो जो इस कथि‍त किसान आंदोलन का सपोर्ट कर रहे हैं। उनकी संपत्ति और कमाई के सारे संसाधन छीने जाने चाहिए। देश की सरकार, सुप्रीम कोर्ट सब मजाक बनकर रह गया है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर…