मार्कशीट नहीं देने पर अग्रसेन कॉलेज के छात्र हाईकोर्ट की शरण में, कोर्ट ने परीक्षा और वायवा पर लगाई रोक

बिलासपुर। परीक्षा में शामिल होने के बावजूद महाराजा अग्रसेन कॉलेज रायपुर से वी वाक इंटीरियर डिजाइनिंग का कोर्स करने वाले छात्रों को मार्कशीट नहीं दी जा रही है, जिसके खिलाफ पीड़ित छात्रों ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। दिलाने की मांग पर हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। इस मामले की सुनवाई के बाद कोर्ट ने कॉलेज द्वारा ली जा रही परीक्षा और वायवा पर रोक लगा दी है।

भविष्य हो रहा है बर्बाद

पंडित रविशंकर विश्वविद्यालय से मान्यता प्राप्त महाराजा अग्रसेन इंटरनेशनल कॉलेज रायपुर से इंटीरियर डिजाइनिंग का कोर्स करने वाले 32 छात्रों की ओर से दायर याचिका में बताया गया है किमार्कशीट नहीं मिलने की वजह से उनका भविष्य बर्बाद हो रहा है। वे 2017, 2018 और 2019 के बैच में दाखिला लेकर कोर्स पूरा कर चुके हैं। पर उन्हें मार्कशीट नहीं दी जा रही है। सन् 2017 के बैच के छात्रों को 2 वर्षों की, 2018 वालों को 1 साल की मार्कशीट दी गई है जबकि 2019 बैच वालों को अभी तक कोई भी मार्कशीट नहीं दी गई है। इन सभी ने कॉलेज की ओर से आयोजित की गई ऑनलाइन परीक्षा दी है और जो असाइनमेंट दिए गए थे, जमा कर चुके हैं। सभी को विश्वविद्यालय से मार्कशीट मिलना है। जब वे मार्कशीट मांगने जाते हैं तो कहा जाता है कि इस मामले में विश्वविद्यालय से कुछ दिक्कतें हैं जिसके चलते सर्टिफिकेट मिलने में देर हो रही है। इस देरी से उनका भविष्य खराब हो रहा है, उन्हें जल्द से जल्द मार्कशीट दी जाए।

इधर हाईकोर्ट गए उधर परीक्षा का टाइम टेबल जारी

सुनवाई के दौरान छात्रों ने बताया कि हाईकोर्ट में याचिका दायर होने के बाद कॉलेज ने वायवा की तारीख जारी कर दी है। साथ ही पहले सेमेस्टर की परीक्षा के लिए नया टाइम टेबल घोषित कर दिया है जबकि महाविद्यालय ने इस परीक्षा का मार्कशीट जारी कर दिया है। परीक्षा और वायवा ली जा चुकी है। इसके बाद फिर जुलाई में परीक्षा देने की तारीख तय की गई है। मामले की सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने परीक्षा और वायवा पर रोक लगा दी है। मामले की अगली सुनवाई अगस्त महीने में होगी।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button