ठग मांग रहें हैं कलेक्टर की तस्वीर लगा कर रीचार्ज के लिए पैसे, जाँच में जुटी साइबर पुलिस

महासमुंद। जैसे-जैसे विश्व में नई नई टेक्नोलॉजी आती जा रही है वैसे ही ठग भी खुद को समय के साथ अपग्रेड करते रहते हैं। यह ठग हर दिन नए-नए तरीकों से लोगों को अपना शिकार बनाते हैं। और आए दिन इस की खबरें हमें देखने सुनने को मिलती हैं। इस बार ठगों ने अपना शिकार कुछ इस तरीके से लोगों को बनाया है कि इसे सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे।

ये भी पढ़ें – डाक सेवक भर्ती में फ़र्ज़ीवाडा करने वाले 7 आरोपी पकड़ाए, रायगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार

दरअसल महासमुंद जिले में कलेक्टर नीलेश क्षीरसागर के नाम पर ठगी करने का मामला सामने आया है। जिसकी शिकायत कलेक्टर ने साइबर सेल को की है। कलेक्टर के पास कुछ लोग शिकायत लेकर आए थे कि कोई व्यक्ति एक नंबर से व्हाट्सएप पर उनकी डीपी लगा कर लोगों से पैसों की उगाई कर रहा है। ठग लोगो से कलेक्टर की व्हाट्सप्प फेक आईडी बना मोबाइल रिचार्ज करने एवं पैसों की डिमांड करता है। ऐसे वे लोग जो कलेक्टर को चेहरे से तो जानते लेकिन उनका नंबर कलेक्टर के पास नहीं है। इन ठगों का शिकार बन जाते हैं।

इस सम्बन्ध में पुलिस को सुचना देने के बाद कलेक्टर ने स्वयं भी अपने सोशल मीडिया पर इसकी सुचना देकर लोगो को सजग रहने को कहा है। उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर करते हुए कहा कि “किसी अन्य मोबाइल नंबर से जो मेरा नहीं है व्हाट्सएप पर किसी भी प्रकार की राशि की मांग, रिचार्ज की मांग, एक साइबर फ्रॉड गिरोह द्वारा मेरा फोटो लगाकर किया जा रहा है। इस तरह की गिरोह से सतर्क रहें मुझे सूचित करें तथा कोई भी प्रकार की लेनदेन ना करें।”

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button