4 साल की बच्ची को पढ़ाई ना करने पर मिली मौत की सजा

झारखंड के जमशेदपुर जिले में एक निर्दयी माता-पिता ने अपनी 4 साल की बेटी को पढ़ाई ना करने पर मौत की सजा दे दी। दरअसल एक चार साल की बच्ची को उसके माता-पिता ने पढ़ाई में रुची नहीं दिखाने पर उसके हाथ-पैर बांधकर इतना पीटा कि उसकी मौत हो गई। बच्ची के मौत के बाद उसके शव को जमशेदपुर से करीब 40 किलोमीटर दूर गालूडीह में रेलवे ट्रैक के किनारे झाड़ियों के पास फेंक दिया। घटना 29 जून कि है, लेकिन इसका खुलासा मंगलवार को हुआ बच्ची के माता-पिता मजदूरी का काम करते हैं। उनकी एक और बेटी है जो अपने मामा के घर पर रहती है। पिता उत्तम मैती जिनकी उम्र 27 वर्ष, मां अंजना 26 वर्षीय को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पढ़ाई न करने दी इतनी बड़ी सजा

बच्ची के माता-पिता ने पुलिस को अपने बयान में बताया कि उनकी छोटी बेटी का पढ़ाई में मन नहीं लगता था। पढ़ाई ना करने के कारण उन्होंने गुस्से में आकर उसके हाथ-पैर बांध दिए और उसकी जम कर पिटाई कर दी। जिसके बाद बच्ची की हालत बेहद खराब हो गई। वे उसे खासमहल के सदर अस्पताल ले कर जा रहे थे तभी रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। शव को ठिकाने लगाने के लिए फिर वे सलगाझूरी स्टेशन से एक ट्रेन में चढ़ गए और गालूडीह स्टेशन पर उतर गए, वहाँ उन्होंने मासूम बच्ची के शव को झाड़ियों में फेंक दिया।

पड़ोसियों को हुआ बच्ची की हत्या शक

कुछ दिनों के बाद जब बच्ची के माता-पिता बरिगोडा अपने घर लौटे तो पड़ोसियों ने उनकी बेटी के बारे में पूछा लेकिन उन्होंने कुछ बताया नहीं। संदेह होने पर पड़ोसियों ने पुलिस को सूचित किया और पूछताछ के दौरान आरोपी टूट गया और घटना के बारे में बताया। पड़ोसियों ने बताया कि माता-पिता बच्ची को अक्सर पीटते थे। ऐसे में पड़ोसियों को बच्ची की हत्या किए जाने का शक हुआ। फिर पुलिस ने दोनों से कड़ाई से पूछताछ की तो दोनों ने पुलिस को सच बता दिया।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button