दिल्ली में मिले मंकीपॉक्स संक्रमित मरीज के संपर्क में आए सभी 13 लोगों की हुई पहचान

नई दिल्ली। बीते दिनों राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मंकीपॉक्स के मरीज मिलने के बाद से लोगों में हड़कंप मचा हुआ हैं और दहशत का माहौल है। बेहद खतरनाक मंकी मंकीपॉक्स वायरस को लेकर दिल्ली सरकार के साथ ही प्रशासन भी अलर्ट मोड में आ गए है। दिल्ली में एक 34 वर्षीय व्यक्ति के मंकीपॉक्स से संक्रमित पाए जाने के बाद रविवार तेलंगाना में 5वां संदिग्ध मरीज मिला। इस बीच, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोगों से कहा है कि घबराने की जरूरत नहीं है, स्थिति नियंत्रण में है। उन्होंने कहा कि मरीज की हालत स्थिर है और वह ठीक हो रहा है। इससे पहले केरल में मंकीपॉक्स के 3 मामले सामने आए थे। दिल्ली में सामने आए मंकीपॉक्स वायरस से संक्रमित पहले मरीज के संपर्क में आए 13 लोगों का भी पता लगा लिया गया है। हालांकि उनमें अभी तक लक्षण नहीं दिखे हैं। सभी को स्वयं निगरानी रखने के लिए कहा गया है।

रविवार दिल्ली में मंकीपॉक्स के मरीज मिलने के बाद तेलंगाना के कामारेड्डी जिले में एक संदिग्ध मरीज मिला। यहां के इंदिरानगर कॉलोनी के 40 वर्षीय व्यक्ति को हैदराबाद के फीवर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया गया कि यह शख्स कुवैत से 6 जुलाई को आया था और 20 जुलाई को इसे बुखार आने लगा। इसके बाद शख्स के शरीर पर 23 जुलाई को चकत्ते पड़ने लगे जिसके बाद उसे कामारेड्डी जिले के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

वहीं केरल, दिल्ली और तेलांगना में केस आने के बाद अब महाराष्ट्र ने भी सोमवार को अलर्ट जारी कर दिया। महाराष्ट्र के सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को मंकीपॉक्स अलर्ट जारी करते हुए जिला प्रशासन को निगरानी बढ़ाने के लिए कह दिया है। तो इसके साथ ही दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने सोमवार को दिल्ली सरकार के शीर्ष अधिकारियों के साथ एक बैठक में मंकीपॉक्स स्थिति की समीक्षा की। सक्सेना ने दिल्ली के मुख्य सचिव, स्वास्थ्य सचिव, स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय और अन्य अधिकारियों के साथ हुई बैठक में महामारी की स्थिति में इससे निपटने के लिए सरकार की तैयारियों की समीक्षा की।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button