मंकीपॉक्स के बढ़ते मामलों को लेकर दिल्ली सरकार अलर्ट

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के कारण पहले से ही भयभीत एवं परेशान देशवासियों के लिए मंकीपॉक्स जैसे बेहद खतरनाक वायरस मुसीबत बन कर डराने लगी है। देश भर में अब तक मंकीपाक्स के 9 से अधिक संक्रमित मरीज मिल चुके हैं । बीते दिनों केरल में मंकी पॉक्स से संक्रमित मरीज की मौत होने की पुष्टि हुई थी। इसके बाद से राज्य सरकारों की ओर से मंकीपॉक्स को लेकर सतर्कता बरतने की अपील की जा रही हैं।

दिल्ली देश की राष्ट्रीय राजधानी होने के साथ ही मुख्य पर्यटन का केंद्र भी है, जिसके कारण देश विदेश के पर्यटक यहां सैर करने के लिए आते हैं। मंकीपाॅक्स वायरस के कहर को देखते हुए दिल्ली सरकार अलर्ट हो गई है। राजधानी दिल्ली के 3 बड़े अस्पतालों को 10-10 कमरे रिजर्व करने को कहा गया है। वहीं इससे पहले दिल्ली के 6 अस्पतालों में 70 आइसोलेशन रूम्स की व्यवस्था की गई है। इनमें से 40 कमरे तीन सरकारी अस्पतालों में और 30 कमरे तीन प्राइवेट अस्पतालो में रिजर्व किए गए हैं।


वहीं उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली सरकार ने लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल में 20, गुरु तेग बहादुर अस्पताल में 10 और डॉ. भीमराव आंबेडकर अस्पताल में 10 आइसोलेशन रूम्स रिजर्व करवाए गए हैं। इनके अलावा पूर्वी दिल्ली के विकास मार्ग एक्सटेंशन स्थित कैलाश दीपक अस्पताल, मॉडल टाउन स्थित एमडी सिटी अस्पताल और तुगलकाबाद स्थित बतरा हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर में भी 10-10 आइसोलेशन रूम्स रिजर्व किए गए हैं।


वायरस के बारे में सिसोदिया ने कहा कि, मंकीपॉक्स एक संक्रामक रोग है, लेकिन इससे डरने की नहीं, बल्कि सावधानी बरतने की जरुरत है। बता दें कि 23 जुलाई तक दुनिया भर के 75 देशों में मंकीपॉक्स के 16,000 से अधिक मामले सामने आ चुके थे, जिसे देखते हुए डब्लूएचओ द्वारा मंकीपॉक्स को एक ‘पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी’ घोषित किया है। भारत में भी अब तक मंकीपॉक्स के 9 मामले सामने आ चुके है जिनमें से तीन मामले दिल्ली के हैं। इन सभी मरीजों का लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में इलाज चल रहा है।

Back to top button