ED की कार्रवाई जारी, दोनों सीए और तीन सराफा पर ज्यादा सख्ती

0 लेनदेन से जुड़े करीबियों से भी की गई घंटों पूछताछ, 0 कच्चे में सौदा और कच्चे में बिक्री का मिला इनपुट

विशेष संवादाता। टीआरपी रायपुर
सराफा कारोबार से जुड़े लक्ष्मी पुत्रों और इनका बहीखाता रखने वाले 2 चार्टर्ड एकाउंटेंट से ईडी की टीम ने लंबी पूछताछ की। सुमित ज्वेलर्स, मोहिनी ज्वेलर्स और पगारिया के अलावा सहेली ज्वेलर्स संचालकों के परिजनों से बंद कमरे में कारोबार से जुड़े सवाल किये गए। सख्ती का अंदाज़ा इसी से लगाया जा सकता है कि जांच में बरामद दस्तावेज़ों के आधार पर पूछताछ करीब 5 घंटे चली।

सीए सुनील जैन और राजेंद्र कोठरी कार्रवाई के पहले दिन से आज दूसरे दिन तक कई दौर की पूछताछ के शिकार हुए। पूर्व में ED की कार्रवाई के बाद मिले हाई प्रोफाइल रेड के दस्तावेज में डायमंड, गोल्ड और कच्चे में आर्थिक लेनदेन पर कारोबारियों और उनके परिजनों के साथ ही महिलाओं से भी प्रश्न पूछे गए हैं। राजधानी के एक कारोबारी के पड़ोसी मित्र तक को पूछताछ के लिए जांच अधिकारी अपने साथ लेकर चले गए थे। पंडरी स्थित नाकोड़ा टेक्स टाइल्स और इनसे जुड़े अन्य 3 ठिकाने, सुमित ज्वेलर्स, सदर बाजार, सिविल लाइन के निवास, हलवाई लाइन स्थित पगारिया ज्वेलर्स के अलावा शैलेन्द्र नगर स्थित निवास, शांतिलालबरड़िया, दुर्ग में खण्डेलवाल कालोनी में सीए सुनील जैन, शिवम स्टोर, जीवन प्लाजा, सीए राजेन्द्र कोठारी के कार्यालय, सराफा लाइन के सहेली ज्वेलर्स, नवकार ज्वेलर्स, प्रकाश सांखला और मदन ज्वेलर्स के भोई पारा स्थित निवास और मोहनी ज्वेलर्स के घर-दफ्तर में खोजबीन चलती रही। ईडी ने कुछ को अपने दफ्तर भी ले जाकर पूछताछ किया है।

कच्चे का सौदा और कच्चे में माल खपाने का शक

जसराज शांतिलाल बैद द्वारा संचालित मोहनी ज्वेलर्स के अलावा दुर्ग में सहेली ज्वेलर्स सहित मदन जैन और प्रकाश सांखला के ठिकानों के अलावा CA सुनील जैन और राजेंद्र कोठारी के कार्यालयों में छापेमारी की जा रही है। इन सभी के विक्की बैद से किए गए कारोबार की जानकारी हासिल की जा रही है। विक्की बैद के खिलाफ पहले भी कार्रवाई की जा चुकी है। टीबीजेड, उज्जवल एटी पीसी जैसे अन्य सराफा भी टार्गेटेड हो सकते हैं।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button