सशक्त लोकायुक्त की फिर उठी मांग, छत्तीसगढ़ नागरिक मंच ने राजधानी में किया धरना प्रदर्शन

सशक्त लोकायुक्त की फिर उठी मांग, छत्तीसगढ़ नागरिक मंच ने राजधानी में किया धरना प्रदर्शन
सशक्त लोकायुक्त की फिर उठी मांग, छत्तीसगढ़ नागरिक मंच ने राजधानी में किया धरना प्रदर्शन

रायपुर। प्रदेश में एक बार फिर से सशक्त लोकायुक्त के नियुक्ति की मांग उठी है। लोकायुक्त के नियुक्ति की मांग को लेकर छत्तीसगढ़ में तर्कसंगत तरीके से लोकायुक्त अधिनियम 2013 को तुरंत लागू किए जाने को लेकर धरना दिया गया। रायपुर के बूढ़ा तालाब मैदान धरना स्थल पर बड़ी संख्या में छत्तीसगढ़ नागरिक मंच के बैनर तले पूर्व वित्त आयोग के अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक वीरेंद्र पांडे के मार्गदर्शन में बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित रहे।

ज्ञात है कि अन्ना हजारे ने भी वर्ष 2013 में लोकपाल के गठन किए जाने हेतु आंदोलन किया था। वीरेंद्र पांडे ने धरना स्थल पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए बताया कि राजीव गांधी के द्वारा इस लोकायुक्त लोकपाल के विषय का आरंभ हुआ था। 2013 में कांग्रेस की केंद्रीय सरकार पर तमाम भ्रष्टाचार के आरोप लगाकर भारतीय जनता पार्टी की सरकार सत्ता में आई। तब भी लोकपाल का विषय ही महत्वपूर्ण था। छत्तीसगढ़ में लोक आयोग अधिनियम 2002 जिस प्रकार से लागू किया गया वह पूरी तरह प्रभावहीन निकला।

पूर्ववर्ती मनमोहन सिंह की केंद्र सरकार ने लोकपाल लोकायुक्त अधिनियम 2013 संसद में पारित किया था। छत्तीसगढ़ में तत्कालीन भारतीय जनता पार्टी की सरकार को भी लोकपाल लोकायुक्त अधिनियम लागू कर दिया जाना चाहिए था किंतु उनके द्वारा यह अधिनियम पांच साल तक लागू न किया जाना उनकी भ्रष्टाचार के साथ सहयोग की नियत को दिखाता है।

भाटापारा के पूर्व विधायक नरेंद्र शर्मा ने मांग की कि छत्तीसगढ़ में आज कांग्रेस की सरकार है। इसलिए भ्रष्टाचार के विरुद्ध लड़ाई में छत्तीसगढ़ सरकार को पहल करते हुए सर्वप्रथम लोकायुक्त अधिनियम 2013 को बिना देर किए लागू किया जाना चाहिए। पेंड्रा रोड जिला से उपस्थित पूर्ण छाबड़िया ने कहां भ्रष्टाचार पर नकेल लगाने का सबसे सशक्त हथियार लोकायुक्त अधिनियम है। यदि छत्तीसगढ़ सरकार इसे अविलंब लागू नहीं करती तो इसका हश्र भी भारतीय जनता पार्टी की पूर्ववर्ती सरकार जैसा होगा।

दाऊ आनंद अग्रवाल जी ने सरकार से मांग की कि छत्तीसगढ़ के आम नागरिकों को न्याय पूर्ण व्यवस्था देने के लिए लोकायुक्त अधिनियम का पास होना बहुत आवश्यक है। किसान मजदूर संघ के संयोजक ललित चंद्र राहुल ने कहा किकांग्रेस ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में यह वादा किया था कि लोकायुक्त अधिनियम के तहत लोकायुक्त नियुक्ति की जाएगी किंतु ढाई साल बीत जाने के पश्चात भी अब तक लोकायुक्त नियुक्ति नहीं हुई। नागरिक मंच के पंकज साहू ने कहा तत्काल विषय को कानूनी जामा पहनाया जाना चाहिए।

आज के धरना कार्यक्रम में मुख्य रूप से स्वाभिमान पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री सतीश कुमार त्रिपाठी, दिलेर सिंह खालसा, गुरजीत सिंह, मनमोहन सिंह सैलानी, लक्ष्मीनारायण चंद्राकर, रूपम चंद्राकर, हरप्रीत सिंह रंधावा, दाऊ अनंत कुमार, लहर प्रसाद तिवारी, तेजराम सिन्हा पवन साहू रोहित पांडे सतीश चंद्र मिश्रा संतोष चंद्राकर,आम आदमी पार्टी के उत्तम जायसवाल, अजीम खान, लक्ष्मण सिंह, खेमराज ध्रुव, देवेंद्र पांडे, गौतम प्रसाद तिवारी, डॉक्टर पंचराम सोनी, विजय कुमार साहू, प्रवीण चंद्राकर सूरज सतनामी अमर चंद्राकर, उचित शर्मा, पंडित निरमेश दुबे आदि बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर…