राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा- ‘सब याद रखा जाएगा’

कोरोना से खुद रखें अपना ख्याल, सरकार तो बेचने में व्यस्त है- राहुल गांधी

टीआरपी डेस्क। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी से मौत नहीं होने वाले बयान पर अभी भी सियासत तेज है। वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस बयान को लेकर गुरुवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और कहा कि ‘सब याद रखा जाएगा।’

यह भी पढ़े: राहुल गांधी ने कहा प्रधानमंत्री का फोकस बंगाल पर था, लोगों की जान ऑक्सीजन से बचाई जा सकती थी PM के आंसुओं से नहीं

बता दें, राहुल गांधी ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा कि सब याद रखा जाएगा। राहुल ने ऑक्सीजन की कमी की सच्चाई के बारे में एक वीडियो साझा किया है। जिसमें कहा गया था कि भारत सरकार कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर में जीवन और स्वास्थ्य के अधिकार की रक्षा करने में पूरी तरह से विफल है। वीडियो में ऑक्सीजन सिलेंडरों को फिर से भरने के लिए लंबी कतारों में इंतजार कर रहे लोगों की तस्वीरें और गोवा के एक अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के कारण  75 लोगों की मौत का भी जिक्र किया गया है।

यह भी पढ़े: लोकसभा में कांग्रेस के लीडर होंगे राहुल गांधी? आज शाम सोनिया गांधी की अहम मीटिंग में हो सकता है फैसला

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने मंगलवार को राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया था कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान किसी भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश से ऑक्सीजन के अभाव में किसी भी मरीज की मौत की खबर नहीं मिली है। स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने उच्च सदन में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा था कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कोविड से मौत की सूचना देने के लिए विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

यह भी पढ़े: अब टीकों की नहीं होगी कमी राहुल गांधी ने स्वास्थ्य मंत्री बदले जाने को लेकर कसा तंज, रविशंकर-जावड़ेकर भी आए निशाने पर

साथ ही उन्होंने जानकारी दी थी कि ‘‘इसके अनुसार, सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश नियमित रूप से केंद्र सरकार को कोविड के मामले और इसकी वजह से हुई मौत की संख्या के बारे में सूचना देते हैं। दरहसल, किसी भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश ने ऑक्सीजन के अभाव में किसी की भी जान जाने की खबर नहीं दी है।’’

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर