राष्ट्रपति के खिलाफ विवादित बयान पर माफी मांगेंगे कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी

नई दिल्ली। देश को गौरवान्वित करने वाले सर्वोच्च पद राष्ट्रपति का चुनाव जीतने के बाद शपथ ग्रहण कर कार्यभाल संभाल चुकीं द्रौपदी मुर्मू के खिलाफ कांग्रेस सांसद अधीर रंजन ने अशोभनीय टिप्पणी कर देश की गरिमा को आघात पहुंचाया है। राष्ट्रपति के खिलाफ उनके विवादित बयान ने सांसद में बड़ा हंगामा खड़ा कर दिया है। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को “राष्ट्रपत्नी” कहकर कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी बुरे फंस चुके हैं। उन्होंने इस बयान पर लोकसभा में सफाई देने के लिए स्पीकर ओम बिरला से समय मांगा है। आपको बता दें कि इससे पहले सोनिया गांधी ने संसद भवन में कांग्रेस के तमात बड़े नेताओं के साथ इस मुद्दे पर बैठक की। इसी बैठक के बाद अधीर रंजन ने स्पीकर को चिट्ठी लिखी है।

इससे पहले एक वीडियो संदेश जारी कर उन्होंने कहा, ”भारत की राष्ट्रपति ब्राह्मण हो या आदिवासी हमारे लिए सम्मान और श्रद्धा का पद होता है। कल हम जब विजय चौक पर आंदोलन कर रहे थे तो उस समय पत्रकारों ने पूछा कि आपलोग कहां जाने की कोशिश कर रहे हैं। मैंने कहा राष्ट्रपति के घर जाना चाहता हूं और उनसे मिलना चाहता हूं। मेरे मुंह से बस अचानक एक बार ही राष्ट्रपत्नी शब्द निकल गया। ‘राष्ट्रपत्नी’ शब्द पर जब पत्रकारों ने टोका तो मैंने उनसे यह नहीं दिखाने की अपील की है।

अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि मेरे से सिर्फ एक बार गलती से “राष्ट्रपत्नी” शब्द निकला और बीजेपी इस पर बवाल काट रही है। उन्हें हमारे खिलाफ कुछ नहीं मिलता है इसलिए ऐसी बातों को तूल देती रहती है।राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को ‘राष्ट्रपत्नी’ बोलने पर संसद में भारी हंगामा हुआ है। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने बुधवार को दिल्ली में पार्टी के एक प्रदर्शन के दौरान राष्ट्रपति के लिए इस शब्द का इस्तेमाल किया था। इसे अब भाजपा ने मुद्दा बना लिया है।

ये भी पढ़ें : कांग्रेस ने आदिवासी राष्ट्रपति का किया अपमान : स्मृति ईरानी

संसद में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और स्मृति इरानी ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला। स्मृति इरानी ने कहा कि इसके लिए कांग्रेस को पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए। इस बीच लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही हंगामे के चलते 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है। भाजपा का कहना है कि इस मामले में सोनिया गांधी को माफी मांगनी चाहिए।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button